नई दिल्ली, टेक डेस्क। Facebook और इसकी इकोसिस्टम ऐप्स यूजर्स की लोकेशन ट्रैक तब भी करत हैं जब उनकी लोकेशन सर्विस स्विच ऑफ रहती है। कंपनी यूजर्स की लोकेशन को हर समय ट्रैक करती रहती है। इस बात की जानकारी खुद Facebook ने अमेरिकी सीनेटरों के सामने दी है। इसके लिए सीनेटर क्रिस्टोफर ए कून्स और जोश हावले को Facebook ने एक पत्र भेजा था जो ट्विटर पर वायरल हो गया है।

Facebook के डिप्टी चीफ प्राइवेसी ऑफिसर रॉब शेर्मान ने से कहा है कि अगर यूजर्स ने अकाउंट से ट्रैकिंग सर्विस ऑफ भी की हुई है तो भी यूजर की लोकेशन का पता लगाया जा सकेगा। इस पर कंपनी ने एक तर्क भी दिया है जिसके मुताबिक, कोई भी व्यक्ति की लोकेशन की जानकारी के काफी फायदे होत हैं। इससे यूजर्स को उनके मुताबिक विज्ञापन दिखाए जाते हैं। इसके अलावा भी कई जानकारियां शामिल हैं।

Facebook के इस खुलासे के बाद सिनेटर जोश हावले ने ट्वीट किया है। उन्होंने ट्वीट कर कह है कि इससे बाहर आने या इसे सही करने का फिलहाल कोई तरीका नहीं है। साथ ही यह भी कहा है कि यूजर्स की निजी जानकारी पर आपका कोई नियंत्रण नहीं है। नीचे देखें ट्वीट

Facebook ने कहा है कि किसी भी यूजर की लोकेशन कंपनी को उनके द्वारा टैग की गई पोस्ट्स से मिल जाती हैं। कंपनी ने कहा है कि यूजर की इस तरह मिलने वाली लोकेशन की जानकारी से कंपनी को फायदा होता है। इससे कंपनी संदिग्ध लॉगइन को ट्रेस कर सकती है। इससे यूजर्स के अकाउंट को सुरक्षित रखा जा सकता है। 

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस