नई दिल्ली, टेक डेस्क। Google अपने यूजर्स का लोकेशन डाटा पब्लिश करेगा जिससे सरकार को COVID-19 महामारी से निपटने में मदद मिल पाए। इससे सरकार को पता चल पाएगा कि सोशल डिस्टेंसिंग को कितना लागू किया जा रहा है। 131 देशों के यूजर का लोकेशन डाटा एक स्पेशल वेबसाइट पर उपलब्ध कराया जाएगा। इस ट्रेंड में यूजर के कहीं भी आने-जाने का डाटा होगा जिसमें पार्क्स, शॉप्स, घर, कार्यस्थल आदि शामिल होंगे।

न्यूज एजेंसी AFP के मुताबिक, Google Maps के हेड जेनफिट्जपैट्रिक और Google की चीफ हेल्थ ऑफिरस करेन डेसल्वा ने कहा, हमें आशा है कि ये रिपोर्ट्स COVID-19 महामारी को मैनेज करने के लिए, लिए जा रहे फैसलों में मददगार साबित होंगी। यह जानकारी अधिकारियों को आवश्यक ट्रिप्स में हो रहे बदलावों को समझने में मदद करेगी।”

जिस तरह से ट्रैफिक जाम का पता लगाने या फिर ट्रैफिक को मांपने के लिए करने के लिए Google Maps का इस्तेमाल किया जाता है। ठीक उसी तरह ये नई रिपोर्ट्स उन यूजर्स का डाटा उपलब्ध कराएंगी जिन्होंने अपनी लोकेश हिस्ट्री एक्टिवेट कर रखी होगी। पोस्ट में कहा गया है कि इस रिपोर्ट में किसी भी यूजर का ऐसा डाटा जिससे व्यक्ति की पहचान हो, कॉन्टैक्ट, मूवमेंट आदि की जानकारी उपलब्ध नहीं कराई जाएगी। चीन से सिंगापोर और इजरायल तक सरकारों ने लोगों की मूवमेंट पर इलेक्ट्रॉनिक मॉनिटरिंग रखने को कहा है जिससे इस वायरस को बढ़ने से रोका जा सके। यूरोप और अमेरिका में स्मार्टफोन डाटा शेयर करना शुरू किया जा चुका है।

Google ने बनाया खास Doodle: Google ने आज Coronavirus को रोकने के लिए टिप्स शेयर किए गए हैं। इसके लिए Google ने एक खास Doodle बनाया है। इसमें लोगों को घर पर रहने और सोशल डिस्टेंसिंग बनाए रखने की सलाह दी गई है। जैसे ही यूजर इस Doodle पर क्लिक करते हैं तो उन्हें Coronavirus tips नाम के पेज पर रिडायरेक्ट किए जा रहे हैं। यहां पढ़ें पूरी खबर

Edited By: Shilpa Srivastava