नई दिल्ली, हर्षित हर्ष। HMD Global ने जब से Nokia के स्मार्टफोन्स बनाना शुरू किया है, कंपनी ने एक बार फिर से भारतीय बाजार में दमदार वापसी की है। कंपनी न सिर्फ बजट और हाई रेंज के स्मार्टफोन्स बना रही है, बल्कि मिड रेंज में भी कंपनी ने अपने कई सारे स्मार्टफोन्स लॉन्च किए हैं। Nokia 8 से लेकर Nokia 7.2 तक, मिड रेंज में लॉन्च हुए स्मार्टफोन्स यूजर्स को पसंद आ रहे हैं। Nokia के स्मार्टफोन की खास बात ये होती है कि कंपनी के सभी स्मार्टफोन्स स्टॉक एंड्रॉइड यानी कि androidone प्लेटफॉर्म के साथ आते हैं। इसकी वजह से यूजर्स को एंड्रॉइड के सभी सिक्युरिटी अपडेट्स सबसे पहले मिलते हैं। स्टॉक एंड्रॉइड के अलावा Nokia के स्मार्टफोन में Zeiss ऑप्टिक्स का इस्तेमाल होता है, जो कि लीडिंग जर्मन कैमरा सेंसर निर्माता कंपनी है।

Nokia 7.2 को सबसे पहले सितंबर में आयोजित IFA 2019 में पेश किया गया। इसके साथ कंपनी ने Nokia 6.2 भी पेश किया था, जो कि जल्द ही भारत में लॉन्च भी होने वाला है। Nokia 7.2 दो स्टोरेज ऑप्शन्स 4GB+64GB और 6GB+64GB में आता है। इसके बेस वेरिएंट को Rs 18,599 की कीमत में खरीद सकते हैं। फोन तीन कलर ऑप्शन्स स्यान ग्रीन, चारकोल और आइस में आता है। हमारे पास जो डिवाइस है वो स्यान ग्रीन है, जो की काफी अट्रेक्टिव है।

डिजाइन

सबसे पहले हम बात करते हैं इसके डिजाइन की, Nokia के स्मार्टफोन्स डिजाइन के मामले में अन्य चीनी या कोरियन स्मार्टफोन निर्माता कंपनियों के मुकाबले बेहतर दिखते हैं। इसके पीछे की वजह इसकी फिनिशिंग होती है। Nokia 7.2 का लुक और डिजाइन आपको Motorola G7 की तरह ही लगता है। हालांकि, इसमें कर्व्ड डिजाइन का इस्तेमाल नहीं किया गया है। इसका बैक पैनल काफी स्लिक और अट्रैक्टिव है। बैक पैनल में रिंगनुमा ट्रिपल कैमरा सेट अप दिया गया है। इस कैमरे सेट अप में हॉरिजॉनटली तीनों कैमरे अलाइंड किए गए हैं, ऐसे में ये देखने में काफी शानदार लुक देता है।

फ्रंट पैनल की बात करें तो इसके फ्रंट पैनल में वाटरड्रॉप या ड्यू ड्रॉप नॉच वाला डिस्प्ले दिया गया है। फोन के फ्रंट पैनल में बॉटम की तरफ मोटी चिन दी गई है, जिस पर Nokia का लोगो दर्ज है। साइड के बैजल काफी पतले हैं, एक साइड में डेडिकेटेड गूगल असिस्टेंस बटन दिया गया है, जबकि दूसरे साइड में वॉल्यू रॉकर्स और पावर बटन दिया गया है। फोन का फ्रंट पैनल बिलकुल कंपनी के पिछले दिनों लॉन्च हुए स्मार्टफोन्स Nokia 4.2, Nokia 3.2 की तरह ही है। फोन में 6.39 इंच की IPS LCD डिस्प्ले दी गई है, जो HD क्वालिटी के कंटेंट को स्ट्रीम करने के लिए परफेक्ट है। फोन के स्क्रीन का रिजोल्यूशन 1080 x 2340 दिया गया है, यानी कि आपको फुल विजन एक्सपीरियंस मिलेगा।

फोन का वजन 180 ग्राम है, आपको ये ज्यादा भारी भी नही लगेगा। फोन के साइड पैनल चौकोर हैं, जिसकी वजह से शानदार ग्रिप मिलती है। स्क्रीन टू बॉडी रेश्यो 83.84 फीसद है, जो कि बॉटम में दिए गए चिन की वजह से है। फोन के बैक पैनल का कलर काफी निखर कर आता है। इसमें हालांकि, स्मज (निशान) लगते हैं, इसलिए मैं तो रेकोमेंड करूंगा कि आप फोन को कवर में ही रखें, ताकि फोन को बार-बार साफ न करना पड़े। फोन देखने में एक प्रीमियम फील देता है।

परफॉर्मेंस

परफॉर्मेंस में भी इसे पूरे नंबर दूंगा, क्योंकि एक तो ये स्टॉक एंड्रॉइड वाला फोन है, इसके साथ ही इसमें क्वालकॉम स्नैपड्रैगन 660 चिपसेट का इस्तेमाल किया गया है। फोन का प्रोसेसर बेहतर तब ही माना जाता है जब इसका सॉफ्टवेयर इसे सपोर्ट करता हो। एंड्रॉइड वन या स्टॉक एंड्रॉइड वाले स्मार्टफोन्स बेहतर इसलिए माने जाते हैं क्योंकि इनका सॉफ्टवेयर काफी समूथ होता है और ये आसानी से फंक्शन करते हैं। स्टॉक एंड्रॉइड वाले स्मार्टफोन्स किसी पर्सनलाइज्ड ओएस के मुकाबले बेहतर परफॉर्म करते हैं। फोन के चिपसेट की बात करें तो इसकी स्पीड 2.2 गीगाहर्ट्ज है और ये क्रायो 260 क्वॉड कोर प्रोसेसर है जो गेमिंग और मल्टी टास्किंग के लिए उपयुक्त है।

वैसे भी स्मार्टफोन अगर मल्टी टास्किंग और गेमिंग में बेहतर काम करे तो इससे ज्यादा बेहतर परफॉर्मेंस की उम्मीद भी नहीं रहती है। फोन में आप स्मूथली हर ऐप को एक्सेस कर सकते हैं और एंड्रॉइड वन होने की वजह से लेटेस्ट सिक्युरिटी अपडेट्स आपको समय-समय पर मिलते रहेंगे। बैटरी की बात करें तो इसें 3,500 एमएएच की लिथियम आयन बैटरी का इस्तेमाल किया गया है। आप अगर हैवी यूज भी करेंगे तो एक दिन लास्ट कर जाता है। हालांकि, इसमें और ज्यादा दमदार बैटरी का इस्तेमाल किया जाता तो इसके लिए पल्स प्वाइंट होता। फोन में USB Type C चार्जिंग मैकेनिज्म का इस्तेमाल किया गया है। साथ ही इसमें आपको 3.5 एमएम जैक का भी इस्तेमाल किया गया है।

कैमरा

फोन के कैमरे की बात करें तो इसके बैक पैनल में ट्रिपल रियर कैमरा का इस्तेमाल किया गया है। फोन के रियर पैनल में एलईडी फ्लैश का भी इस्तेमाल किया गया है। फोन में सेल्फी के लिए वाटरड्रॉप नॉच के साथ कैमरे को इंटीग्रेट किया गया है। फोन के बैक में 48 मेगापिक्सल का प्राइमरी सेंसर का इस्तेमाल किया गया है। इस साल लॉन्च होने वाले मिड रेंज के ज्यादातर स्मार्टफोन्स के लिए 48 मेगापिक्सल एक स्टैंडर्ड बन गया है। 48 मेगापिक्सल के प्राइमरी सेंसर के अलावा इसमें 8 मेगापिक्सल का वाइड एंगल सेंसर और 5 मेगापिक्सल का डेप्थ सेंसर भी दिया गया है। फोन को आप फोटोग्राफी के लिए इस्तेमाल कर सकते हैं। फोन को आप कैमरे के मामले में बेस्ट इन क्लास कह सकते हैं।

48 मेगापिक्सल वाले कैमरे तो अब आम हो गए हैं, लेकिन इसमें ZEISS का ऑप्टिक्स इस्तेमाल किया गया है जो कि इसे अन्य स्मार्टफोन्स के मुकाबले बेहतर बनाता है। फोन के कैमरे से 3840x2160 @ 30 fps के रिजोल्यूशन के साथ वीडियो रिकार्डिंग की जा सकती है। फोन के कैमरे में डिजिटल जूम, ऑटो फोकस, फेस डिटेक्शन और टच टू फोकस जैसे फीचर्स दिए गए हैं। साथ ही ये HDR को भी सपोर्ट करता है। फोन के रियर कैमरे में कई मोड्स दिए गए हैं, जिसमें लाइव फोकस, प्रोट्रेट और प्रो मोड्स शामिल हैं।

सेल्फी कैमरे की बात करें तो इसमें 20 मेगापिक्सल का सेल्फी कैमरा दिया गया है। सेल्फी कैमरे का अपर्चर f 2.0 दिया गया है, जो सोशल मीडिया अपलोडिंग के लिए बेहतर है। फोन के सेल्फी कैमरे से आप हाई क्वालिटी वीडियो कॉलिंग भी कर सकते हैं। इसके अलावा ये 1920x1080 @ 30 fps के रिजोल्यूशन से वीडियो भी रिकॉर्ड कर सकता है।

फैसला

Nokia 7.2 कंपनी का लेटेस्ट स्मार्टफोन है तो जाहिर सी बात है कि इसमें आपको लेटेस्ट फीचर्स देखने को मिलते हैं। इस स्मार्टफोन को मैं इसलिए रेकोमेंड करूंगा कि आपको एक जानी-पहचानी कंपनी का स्मार्टफोन मिड रेंज में बेहतर कैमरा क्वालिटी और परफॉर्मेंस के साथ मिलता है। साथ ही साथ इसमें स्टॉक एंड्रॉइड का इस्तेमाल किया गया है। फोन की लुक, डिजाइन, कैमरे और परफॉर्मेंस को देखने के बाद इसे बेस्ट इन मिड रेंज स्मार्टफोन कहा जा सकता है। 

Posted By: Harshit Harsh

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप