नई दिल्ली, शिल्पा श्रीवास्तवा। बजट सेगमेंट में स्मार्टफोन बाजार काफी धनी है। 10,000 रुपये से कम कीमत में यहां कई स्मार्टफोन्स मौजूद हैं जो कई बेहतर और दमदार फीचर्स के साथ पेश किए गए हैं। इन्हीं में से एक Infinix S5 है जिसकी कीमत मात्र 8,999 रुपये है। फोन के मुख्य फीचर्स की बात करें तो यह 4000 एमएएच बैटरी और एंड्रॉइड 9 पाई जैसे फीचर्स के साथ आता है। हालांकि, ऐसा बिल्कुल भी नहीं है कि अगर फोन की कीमत कम हो तो उसे खरीद लिया जाए। फोन खरीदने से पहले उसके बारे में जानना बेहद जरूरी है। इसी के चलते हम आपके लिए Infinix S5 का रिव्यू लाए हैं जिससे आप इस स्मार्टफोन की बारीकियों को जान पाएंगे और फोन खरीदना है या नहीं इसका फैसला ले पाएंगे।

Infinix S5 की डिजाइन और डिस्प्ले: सबसे पहले बात करते हैं फोन के डिजाइन की। फोन की बिल्ट क्वालिटी पर कंपनी ने काफी ध्यान दिया है। फोन की बॉडी प्लास्टिक है लेकिन फोन के बैक पैनल पर कंपनी ने ग्लॉसी लुक दिया है। हालांकि, ग्लॉसी होने के चलते फोन के बैक पैनल पर फिंगरप्रिंट आसानी से छप जाएंगे। डिजाइन में यह किसी आम स्मार्टफोन की तरह नहीं दिखता है। आजकल जिस तरह से स्मार्टफोन्स बड़ा स्क्रीन के साथ पेश किए जा रहे हैं, ठीक उसी तरह Infinix S5 को भी बड़ी स्क्रीन के साथ मार्केट में उतारा है। एक हाथ से फोन को इस्तेमाल कर पाना थोड़ा मुश्किल है। वहीं, फोन काफी स्लिपरी है। ऐसे में हम आपको यही सलाह देंगे की आप फोन को बिना कवर के इस्तेमाल न करें।

Infinix S5 उन कुछ बजट स्मार्टफोन्स में से एक है जो कम कीमत में पंच-होल डिस्प्ले के साथ आते हैं। स्क्रीन पर दिया गया पंच-होल डिजाइन आपको डिस्ट्रैक्ट बिल्कुल भी नहीं करेगा। इसके बेजल्स काफी पतले हैं जो आपको एक बेहतर एक्सपीरियंस का अनुभव देंगे। फोन के दायीं तरफ वॉल्यूम और पावर बटन हैं। वहीं, इसके बायीं तरफ सिम ट्रे है जिसमें दो नैनो सिम और एक माइक्रोएसडी कार्ड लगाया जा सकता है।

अब बात करते हैं डिस्प्ले की। फोन में 6.55 इंच का इनफिनिटी-O HD+ डिस्प्ले दिया गया है। हम इसके डिस्प्ले को पूरे नंबर नहीं देंगे क्योंकि एक औसत दूरी से स्क्रीन देखने पर आपको टेक्सट तो ठीक दिखाई देंगे लेकिन वीडियो देखने में आपको बेहतर एक्सपीरियंस मिल पाना कुछ मुश्किल है। ऐसा इसलिए क्योंकि फोन में वीडियोज देखने पर इनमें शार्पनेस की कमी दिखाई दे रही है। फोन को ज्यादा रोशनी में इस्तेमाल करते समय हमें बार-बार ब्राइटनेस को एडजस्ट करना पड़ रहा था।

हार्डवेयर और सॉफ्टवेयर: किसी भी स्मार्टफोन में हार्डवेयर और सॉफ्टवेयर फीचर्स उसकी परफॉर्मेंस के प्रतीक होते हैं। Infinix S5 की बात करें तो फोन में एंट्री लेवल मीडियाटेक हेलियो पी22 प्रोसेसर मौजूद है। यह स्नैपड्रैगन 665 या हेलियो पी70 के मुकाबले उतना दमदार नहीं है। हमने इन दोनों प्रोसेसर्स से हेलियो पी22 की तुलना इसलिए की, क्योंकि जिस कीमत में Infinix S5 को लॉन्च किया गया है उसी कीमत में इन प्रोसेसर्स के साथ फोन लॉन्च किए जा चुके हैं। ऐसे में कंपनी प्रोसेसर के मामले में बेहतर काम कर सकती थी। फोन मल्टीटास्किंग के समय काफी स्मूद रहे। एक ऐप से दूसरी ऐप पर जाने में हमें किसी भी तरह की कोई दिक्कत महसूस नहीं हुई। वहीं, अगर गेमिंग एक्सपीरियंस की बात करें तो फोन में मौजूद गेम्स को खेलते समय फोन न तो ओवरहीट हुआ और न ही हैंग हुआ। अगर आप फोन पर कोई हैवी गेम खेलना चाहें तो आप उसके ग्राफिक्स लो क्वालिटी पर सेट कर खेल सकते हैं। यूट्यूब पर जब हमने वीडियो देखें तो यह अधिकतम 720 पिक्सल तक ही ठीक दिखाई दिए। अगर आप इससे ज्यादा रेजोल्यूशन पर वीडियो देखते हैं तो आपको वीडियोज की शार्पनेस में कमी दिखाई देगी।

इस फोन को केवल एक ही वेरिएंट में लॉन्च किया गया है। यह 4 जीबी रैम और 64 जीबी स्टोरेज के साथ आता है। देखा जाए तो इस प्रोसेसर के साथ इतनी रैम और स्टोरेज ठीक मैच कहा जा सकता है। जैसा कि हमने आपको बताया कि फोन में मल्टीटास्किंग की कोई परेशानी नहीं है। ऐसे में 4 जीबी रैम के साथ यह फोन इस मामले में तो ठीक ही काम कर रहा है। वहीं, 64 जीबी स्टोरेज भी यूजर्स के लिए काफी होती है। अगर उनकी यूसेज ज्यादा है तो वो 256 जीबी तक का माइक्रोएसडी कार्ड इस्तेमाल कर सकते हैं। फिंगरप्रिंट सेंसर की बात करें तो यह क्विक था। फोन को अनलॉक करने के लिए यह सेंसर बेहद कम समय लगाता है। इसके अलावा सिक्योरिटी के लिए फेस अनलॉक फीचर भी मौजूद है। यह फीचर भी काफी क्विक रिस्पॉन्स देता है।

अब आते हैं सॉफ्टवेयर पर। यह फोन एंड्रॉइड 9 पाई पर आधारित XOS Cheetah पर काम करता है। फोन का सॉफ्टवेयर फोन का मुख्य फीचर कहा जा सकता है। इसमें क्विक नोटिफिकेशन्स और सेटिंग्स काफी अच्छा अनुभव प्रदान करती हैं। हालांकि, कुछ ऐसे कस्टमाइजेशन्स भी फोन में की गई हैं जिनकी कोई जरूरत नहीं थी। उदाहरण के तौर पर: Palm Store और AHA Games को क्यूरेटेड गेम्स और ऐप्स को ऑफर करने के लिए दिया गया है। इन्हें अनइंस्टॉल भी नहीं किया जा सकता है। इनकी नोटिफिकेशन्स भी काफी परेशान करती हैं क्योंकि इनकी कोई जरूरत ही नहीं होती हैं। हालांकि, XOS आपको नॉच छिपाने की सुविधा भी देता है जिससे ऐप्स का इस्तेमाल कर पाना और बेहतर हो जाता है।

कैमरा: Infinix S5 को क्वाड रियर कैमरा के साथ पेश किया गया है। इसका प्राइमरी सेंसर 16 मेगापिक्सल का है जिसका अपर्चर f/1.8 है। यह PDAF फीचर के साथ आता है। दूसरा 5 मेगापिक्सल का अल्ट्रा-वाइड एंगल कैमरा है। इसे क्लोज-अप शॉट्स के लिए इस्तेमाल किया जाता है। वहीं, तीसरा 2 मेगापिक्सल का डेप्थ सेंसर है जो पोट्रेट मोड के लिए काम आता है। इसके अलावा चौथा लो-लाइट सेंसर है। यह कैमरा PDAF, क्वाड LED फ्लैश, ऑटो सीन डिटेक्शन, AR Animoji जैसे फीचर्स दिए गए हैं। साथ ही इसमें कस्टम बोकेह, AI HDR, AI Beauty और पैनारामा जैसे मोड्स उपलब्ध हैं। वीडियो रिकॉर्डिंग की बात करें तो यह 30fps पर 1080 पिक्सल पर शूट करता है। ये हुए फोन के फीचर्स, अब बात करते हैं इसकी कैमरा परफॉर्मेंस की।

PDAF होने के बावजूद भी फोटो में फोकस देने के लिए कई बार कुछ समय लगता है। ज्यादा लाइट में फोटो तो ठीक कैप्चर होती हैं लेकिन क्लोज अप शॉट्स आपको ज्यादा बेहतर लगेंगे। हालांकि, इनमें डिटेलिंग मिलना मुश्किल है। लो लाइट में फोटो क्वालिटी आपको अप टू द मार्क नहीं मिलेगी। कैमरा सेगमेंट में फोन हमें उतना बेहतर परफॉर्मर नहीं लगा। कंपनी इस सेगमेंट को और बेहतर बना सकती थी। आप सुपर मैक्रो मोड में भी फोटो खींच सकते हैं हालांकि, क्वालिटी आपको उसमें भी एक नॉर्मल फोटो जैसी ही मिलेगी। वाइड अपर्चर के चलते आप प्राइमरी सेंसर से अच्छी फोटो ले सकते हैं। फोटो को जूम करने पर पिक्सल्स फट सकते हैं। नाइट मोड में भी फोटोज की डिटेलिंग अच्छी नहीं आती है।

सेल्फी कैमरा की बात की जाए तो इसमें 32 मेगापिक्सल का HDR+ AI डायनेमिक सेंसर मौजूद है। सेल्फी सेगमेंट में फोन की क्वालिटी अच्छी है। इसमें आपको निराशा नहीं हाथ नहीं लगेगी। हालांकि, इतने ज्यादा पिक्सल्स पर फोटो का साइज काफी बड़ा हो जाता है। ऐसे में इसका रेजोल्यूशन आप मैनुअली कम भी कर सकते हैं।

बैटरी: Infinix S5 में 4000 एमएएच की बैटरी दी गई है। इस सेगमेंट में हम इसे पूरे नंबर दे सकते हैं लेकिन केवल औसत इस्तेमाल के लिए। औसत इस्तेमाल पर इसकी बैटरी 1 से 1.5 दिन तक चल सकती है। फोन को उसके ओरिजनल चार्जर से चार्ज करने पर यह फास्ट चार्ज होता है। देखा जाए तो फोन को उसके ओरिजनल चार्जर के साथ ही चार्ज किया जाता है लेकिन कुछ यूजर्स किसी भी फोन का चार्जर किसी भी फोन में लगाकर चार्ज कर लेते हैं। ऐसे में हम उन्हें सलाह देते हैं को वो फोन को ओरिजनल चार्जर से ही चार्ज करें जिससे फोन की बैटरी लाइफ लंबी हो पाए। अगर आप फोन पर लगातार वीडियोज देखते हैं या फिर ब्राउजिंग करते हैं तो फोन को आपको दिन में दो बार चार्ज करना पड़ सकता है।

हमारा फैसला: हमारे हिसाब से फोन के फीचर्स ऐसे नहीं हैं जो यूजर्स को अपनी तरफ आकर्षित कर पाएं, केवल पंच-होल डिस्प्ले के। फोन की बैटरी लाइफ से लेकर हार्डवेयर परफॉर्मेंस तक फोन को औसत ही कहा जा सकता है। ऐसे में अगर आप इस फोन के विकल्पों पर भी नजर डालना चाहते हैं तो मार्केट में Realme 5 और Redmi Note 8 भी मौजूद हैं। इनकी परफॉर्मेंस और फीचर्स Infinix S5 से बेहतर हैं। हालांकि, आखिरी फैसला आपका है कि आपकी जरुरत के हिसाब से कौन-सा फोन आपके लिए ज्यादा बेहतर है। 

Posted By: Shilpa Srivastava

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप