नई दिल्ली, टेक डेस्क। रिलायंस जियो (Reliance Jio) ने अपने एक नई सर्विस लॉन्च की है। इस सर्विस को यूपीआई आटोपे (UPI Autopay) नाम से पेश किया गया है। जियो ने अपनी नई सर्विस को नेशनल पेमेंट्स कारपोरेशन ऑफ इंडिया (NPCI) के साथ मिलकर पेश किया है। यह एक तरह की पेमेंट सर्विस है। जियो के दावे के मुताबिक UPI बेस्ड AutoPay वाली जियो पहली टेलिकॉम कंपनी बन गई है। जियो की यूपीआई बेस्ड ऑटोपे सर्विस को पोस्टपेड के साथ प्री-पेड ग्राहकों के लिए पेश किया गया है। 

क्या है यूपीआई ऑटोपे

रिलायंस जियो ने यूपीआई बेस्ड ऑटोपे सर्विस को जियो ग्राहकों की सुविधा को देखते हुए लॉन्च किया है। दरअसल अक्सर देखा जाता है कि हर माह ग्राहकों को रिचार्ज डेट याद रखनी होती है। साथ ही रिचार्ज डेट भूलने जाने पर टेलिकॉम सर्विस बंद हो जाती है। हालांकि जियो की नई यूपीआई ऑटोपे सर्विस से हर माह बार-बार के रिजार्ज के झंझट का मुक्ति मिल जाएगी। साथ ही रिचार्ज खत्म होने की डेट नहीं याद रखना पडे़गा। रिचार्ज खुद-ब-खुद आपके एकाउंट से डेबिट हो जाएगा।

5000 रुपये तक खुद-ब-खुद होगा रिचार्ज 

जियो ग्राहक यूपीआई बेस्ड ऑटोपे सर्विस के लिए निर्देश को My Jio ऐप पर सेट कर पाएंगे। हालांकि जियो ग्राहकों को 5000 रुपये तक के रिचार्ज पर कोई UPI पिन नहीं दर्ज करना होगा। लेकिन अगर 5000 रुपये से ज्यादा का रिचार्ज करते हैं, तो यूपीआई पिन दर्ज करना होगा। जियो यूजर समय-समय पर अपने हिसाब से टैरिफ प्लान को अपडेट भी कर पाएंगे। साथ ही अन्य बदलाव भी कर पाएंगे।

जियो का ऑटो पे मोड रहेगा सिक्योर

NPCI के चीफ ऑफ प्रोडक्ट ऑफिसर कुनाल ने बताया कि जियो के साथ साझेदारी से ग्राहक के मोबाइल टैरिफ प्लान रिचार्ज के एक्सपीरिएंस में काफी बदल आने वाला है। साथ ही NPCI की तरफ से जियो ग्राहकों को एक्स्ट्रा लेयर सिक्योरिटी मिलेगी। उन्होंने दावा किया कि यूपीआई बेस्ड ऑटोपे सर्विस पूरी तरह से सिक्योर है। 

Edited By: Saurabh Verma