नई दिल्ली| व्हाट्सएप हाल ही में वीडियो कालिंग फीचर लेकर आया है| इस फीचर को आये महज तीन चार दिन ही हुए हैं की स्पैमर्स ने इसके जरिए लोगों को निशाना बनाना शुरू कर दिया है। इसके लिए उन्होंने एक स्पैम वेबसाइट तैयार की है। ज्ञात हो की व्हाट्सएप वीडियो कालिंग का बीटा वर्जन पहले ही आ चुका था| उसके बाद 15 नवंबर को व्हाट्सएप की यह सुविधा शुरू होने के बाद से ही यूजर्स को इससे जुड़े इनविटेशन लिंक आने शुरू हो गए थे। और मैसेज के पीछे की पूरी सच्चाई जाने बिना ही लोगों ने इसे आगे फॉरवर्ड करना भी शुरू कर दिया|

आखिर क्या है मैसेज का सच
इस फीचर की आड़ में जो स्पैम मेसेज भेजे जा रहे हैं, उनमें ऐसा कहा जाता है- 'आपको व्हाट्सएप वीडियो कॉलिंग फीचर ट्राई करने के लिए इनवाइट किया जाता है। इस फीचर को सिर्फ वही लोग ऐक्टिव कर सकते हैं, जिन्हें इनविटेशन मिला है।' जैसे ही कोई यूजर इस लिंक पर क्लिक करता है, वह एक वेबसाइट पर पहुंच जाता है जो स्पैम होने के बावजूद उसके जैसे नहीं दिखती।
इस पूरी वेबसाइट को इस तरह डिजाइन किया गया है कि अच्छे से अच्छे लोग धोखा खा जाएं। जैसे ही आप इस फीचर को इनेबल (शुरू करने) करने वाले लिंक पर क्लिक करते हैं तो आप एक नए पेज पर पहुंच जाते हैं जहां यूजर वेरिफिकेशन की जरूरत होती है। यहां पर आपसे कहा जाता है कि इस फीचर को इनेबल करने के लिए आपको अपने चार और दोस्तों से इस लिंक को शेयर करना होगा और उन्हें इनवाइट करना होगा। जैसे-जैसे आप इस लिंक पर आगे क्लिक करते जाते हैं, आप स्पैम के दायरे में आते जाते हैं और यह आपको हैकिंग का शिकार बना सकता है।

Posted By: Sakshi Pandya

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस