नई दिल्ली, विनीत शरण। कोरोना लॉकडाउन में इन दिनों बड़ी संख्या में लोग अपने परिवार से दूर हैं। इन दिनों दोस्तों से मिलना भी मुमकिन नहीं है। ऐसे में वीडियो कॉल ही अपनों का चेहरा देखने का एक मात्र जरिया है। वहीं, वर्क फ्रॉम होम के साथ कॉलेज और स्कूल की पढ़ाई जारी रखने में भी वीडियो कॉलिंग ऐप काफी मददगार साबित हो रहे हैं। आइए जानते हैं कुछ वीडियो कॉलिंग ऐप के बारे में और जानते हैं कि कैसे सोशल डिस्टैंसिंग के इस दौर में इनका इस्तेमाल हो रहा है-

1. ZOOM वर्चुअल क्लास में आ रहा काम

इस ऐप की ख़ासियत है कि इससे एक बार में 100 लोग तक एक साथ वीडियो कॉल से जुड़ सकते हैं। हालांकि, इसके फ्री कॉल की सीमा 60 मिनट ही है। कानपुर के पीएसआईटी कॉलेज के असिस्टेंट प्रोफेसर राहुल देव शुक्ला बताते हैं कि टीचर के लिए Zoom का अनुभव काफी अच्छा है और यह सुविधाजनक भी है। Zoom का इस्तेमाल वे खुद भी पहली बार कर रहे हैं। इसका टाइम लिमिट 60 मिनट है। इतने में एक लेक्चर पूरा हो जाता है। कॉलेज के सभी टीचर Zoom का इस्तेमाल कर रहे हैं। Zoom लैपटॉप और मोबाइल दोनों पर अच्छा चलता है। बच्चों को भी अच्छा लग रहा है। अनुशासन भी रहता है। लॉकडाउन खत्म होने के बाद भी जरूरत पड़ने पर Zoom का इस्तेमाल किया जा सकता है। गूगल हैंगआउट का भी टीचर काफी इस्तेमाल कर रहे हैं।

शिक्षकों के मुताबिक जूम की ये हैं खासियतें-

- इवेंट को प्रीशिड्यूल कर सकते हैं।

-ऑनलाइन स्क्रीन शेयर करके लर्निंग मैटेरियल बच्चों को दिखा सकते हैं।

-अपना प्रजेंटेशन दे सकते हैं। बच्चों के सवाल ले सकते हैं।

-स्क्रीन शेयर करने का फायदा यह है कि पीपीटी, पीडीएफ या हाथ से लिखा प्रजेंटेशन दे सकते हैं।

-वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए जो क्लासेज हैं, वे काफी सफल हैं।

-सेटिंग को पर्सनलाइज कर सकते हैं, जिससे कोई अनजान मीटिंग में शामिल नहीं हो पाएगा।

-कई सेटिंग होती हिं, जिनसे क्लास में शोर को नियंत्रित करना आसान होता है।

ऑफिस की मीटिंग भी हो रही है Zoom पर

एक निजी कंपनी के रिजनल अकाउंट मैनेजर अमित शर्मा का कहना है कि उनकी कंपनी टेलीकॉम कंपनियों के लिए एप्लिकेशन बनाती है। कोरोना लॉकडाउन में Zoom ऐप मीटिंग करने में काफी मददगार साबित हो रहा है। हालांकि, अमित का कहना है कि वर्चुअल मीटिंग में फेस टू फेस मीटिंग से ज्यादा वक्त लगता है और टीम बिल्डिंग में भी दिक्कत होती है। वहीं, उनके काम में क्लाइंट से दिन में कई बार बात करनी होती है। यह काम ऑफिस से करना ज्यादा आसान होता है।

2. Whatsapp वीडियो कॉल से ऑफिस का काम और दोस्तों से बात भी

यह एक शानदार वीडियो कॉल प्लेटफार्म है। पर इस ऐप में एक बार में तीन लोगों से ही बात कर सकते हैं। यानी वीडियो कॉल में आपको लेकर चार लोग ही होंगे। Whatsapp की सबसे अच्छी खासियत है कि यह काफी कम डाटा खर्च करता है। साथ ही इसकी कॉल इंस्क्रिप्ट भी होती है। इस ऐप का डेस्कटॉप और वेब वर्जन भी है, इसलिए इसके लिए स्मार्टफोन पर भी निर्भर नहीं रहना पड़ता है।

टेलीकम्युनिकेशन से जुड़ी एक एमएनसी के सीनियर इंजीनियर रोहित सिंह के मुताबिक, उनकी कंपनी मोबाइल टॉवर का काम करती है और सुनिश्चित करती है कि मोबाइल नेटवर्क की कोई समस्या न हो। इस काम में ज्यादातर फील्ड वर्कर से बात करनी होती है। इसमें whatsapp कॉल बेहद मददगार होती है। whatsapp के बिजनेस अकाउंट पर चैट से भी बात होती है। लॉकडाउन के पहले भी वे साइट पर मौजूद फील्ड वर्कर के साथ कॉल या whatsapp कॉल से ही कम्युनिकेट करते थे। तकनीक की मदद से लॉकडाउन के बाद भी काम आराम से हो रहा है। हालांकि, रोहित का कहना है कि वर्चुअल मीटिंग ‘फेस टू फेस मीटिंग’ से बेहतर नहीं हो सकती है।

वहीं, अमित शर्मा के मुताबिक, परिवार से लोगों और दोस्तों से बात करने के लिए वे whatsapp वीडियो कॉल का इस्तेमाल करना पसंद करते हैं, क्योंकि इसे चलाना ज्यादातर लोगों के लिए बेहद आसान होता है।

3. Skype है प्रोफेशनल की पसंद

इस ऐप में 24 लोग एक साथ वीडियो कॉल में हिस्सा ले सकते हैं। साथ ही Skype में टेक्स्ट चैट और वॉयस कॉल की भी सुविधा है। यह ऐप स्मार्टफोन और डेस्कटॉप दोनों प्लेटफॉर्म पर उपलब्ध है। यह ऐप एंड्रॉयड, आईफोन, टैबलेट, विंडो और मैक्स पीसी को सपोर्ट करता है। सीनियर इंजीनियर रोहित सिंह बताते हैं कि दिन की शुरुआत में जो ऑफिस की पहली मीटिंग होती है, उसमें स्काइप की मदद ली जाती है।

4. Google Duo

Google Duo गूगल की ऐप है। यह प्ले स्टोर और आईओएस पर उपलब्ध है। यह एक साथ 12 लोगों को सर्पोट करता है और पूरी तरह फ्री है। इस ऐप को इस्तेमाल करना काफी आसान है। इस ऐप में एक खास बात है कि इसमें कॉल का जवाब देने से पहले आप कॉल करने वाले की वीडियो स्ट्रीम देख सकते हैं।

5. Facebook Messenger

Facebook Messenger का डेस्कटॉप ऐप भी ग्रुप वीडियो कॉल के लिए काफी पसंद किया जा रहा है। Facebook Messenger का डेस्कटॉप ऐप अप्रैल में ही लॉन्च हुआ है। यह मैकओएस और विंडो दोनों प्लेटफार्म पर उपलब्ध है। Facebook Messenger के डेस्कटॉप वर्जन में ग्रुप वीडियो कॉल के लिए बड़ी स्क्रीन, आसानी से कनेक्ट होने की सुविधा और मल्टीटॉस्किंग जैसी सुविधाएं मिलती हैं।

6. Houseparty

लॉकडाउन के दौरान Houseparty ऐप काफी पॉपुलर है। कई तरह के फन एक्टिविटी भी इस पर हैं। ऐप में कई इन बिल्ड गेम्स हैं, जिन्हें आप दोस्तों के साथ खेल भी सकते हैं। इसलिए, यह ऐप बातचीत को वीडियो कॉल के आगे भी ले जाती है। इस एप में एक बार में आठ लोग वीडियो कॉल से जुड़ सकते हैं। सोशल बटरफ्लाई के लिए यह ऐप बेस्ट माना जाता है। इस ऐप में यूजर के दोस्तों के दोस्त भी बातचीत में शामिल हो सकते हैं, जैसा कि घर की पार्टी में होता है। इस तरह यूजर नए लोगों से मिल सकते हैं। इस ऐप को डाउनलोड करते ही आप सोशल महसूस करेंगे।

7. Instagram वीडियो ऐप

इस ऐप पर चार लोग एक साथ वीडियो कॉल कर सकते हैं। मार्च में ही Instagram पर एक नया फीचर पेश किया गया है, जिसका नाम Co-Watching है। इस फीचर के जरिए कई यूजर्स वीडियो चैट पर एक साथ इंस्टाग्राम पोस्ट देख पाएंगे। वीडियो चैट के लिए Direct inbox विकल्प पर जाना होगा। इसके बाद, वीडियो चैट आइकन को टैप करना होगा। आप इसमें अपने एक से ज्यादा दोस्तों को जोड़ सकते हैं। फिर वीडियो चैट शुरू हो जाएगी।

ढेरों अन्य विकल्प भी मौजूद हैं-

इन ऐप के अलावा Google Hangout, live video calling, Tango, Viber, Just talk, Snapchat, Woo, Wechat, Hala और Line वीडियो कॉल करने के अच्छे प्लेटफार्म्स हैं। आईफोन के यूजर फेसटाइम ऐप का इस्तेमाल कर रहे हैं। वहीं, Cisco Webex Meeting, Microsoft Teams और GoToMeeting भी अच्छे वीडियो कॉलिंग ऐप हैं। यानी इन ढेरों और सफल एप की मौजूदगी से आज बिना फेस टू फेस मीटिंग के ऑफिस के सारे काम हो रहे हैं, लेकिन फेस टू फेस मीटिंग को प्रोफेशनल ज्यादा प्राथमिकता देते हैं। 

Posted By: Vineet Sharan

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस