नई दिल्ली, टेक डेस्क। लोकप्रिय वीडियो अपलोडिंग ऐप TikTok को पिछले साल अगस्त में ग्लोबली लॉन्च किया गया था। इस ऐप को चीनी कंपनी ByteDance ने डेवलप किया है। आज यह भारत समेत दुनिया भर में Facebook, Twitter और Instagram की तरह ही लोकप्रिय सोशल मीडिया ऐप बन गया है। लॉन्च के एक साल के अंदर ही यह ऐप कई बार सुर्खियों में रहा हो।

इस ऐप को भारत में कुछ दिनों के लिए बैन भी कर दिया गया था। मद्रास हाईकोर्ट के मदुरई बेंच ने इस ऐप के कंटेंट पर सवाल उठाते हुए, बच्चों की मानसिकता बिगाड़ने के लिए बैन कर दिया था। हालांकि, बाद में इस ऐप पर से बैन हटा लिया गया। आज हम आपको इस ऐप के एक साल के सफर के बारे में बताने जा रहे हैं जिसमें यह ऐप कई बार सुर्खियों में बना रहा

TikTok-Musical.ly मर्जर

TikTok और Musical.ly को पिछले साल अगस्त में ग्लोबली मर्ज कर दिया गया। ये दोनों ऐप शॉर्ट वीडियो बनाने और सोशल शेयर करने के लिए इस्तेमाल किया जाता था। Musical.ly को अगस्त 2014 में लॉन्च किया गया था जिसे लोकप्रिय गानों और टीवी एवं फिल्मों के डॉयलॉग के जरिए शॉर्ट वीडियो बनाने के लिए इस्तेमाल किया जाता था। पिछले साल TikTok और Musical.ly का मर्जर हो गया जिसकी वजह से ये सुर्खियों में रहा।

यह भी पढ़ें: Happy Friendship Day: अपने Tech Savy फ्रेंड्स को गिफ्ट कर सकते हैं ये Cool Gadgets

आपको बता दें की TikTok को 2016 के सितंबर में लॉन्च किया गया था लेकिन मर्जर के बाद पिछले साल अगस्त में इसे री-लॉन्च किया गया। नए TikTok ऐप में कई नए फीचर्स जैसे कि वीडियो रिएक्शन, कैमरा इफेक्ट्स, VR जैसे फिल्टर्स के साथ लॉन्च किया गया जो यूजर्स को काफी पसंद आए। जिसकी वजह से एक साल के अंदर ही यह ऐप सबसे ज्यादा डाउनलोड करने वाले ऐप्स की श्रेणी में आ गया।

100 करोड़ डाउनलोड

TikTok की लोकप्रियता का अंदाजा इससे लगाया जा सकता है कि इस साल फरवरी में इस ऐप को Google Play Store और Apple App Store पर 1 बिलियन यानी कि 100 करोड़ बार डाउनलोड किया गया। इस साल की पहली तिमाही में Apple App Store पर इस ऐप को सबसे ज्यादा बार डाउनलोड किया गया। इस समय WhatsApp और Messenger के बाद TikTok दुनिया का तीसरा सबसे ज्यादा डाउनलोड किया जाने वाला ऐप है।

TikTok Ban

इस साल भारत में इस ऐप को बैन किया जाना भी काफी सुर्खियों में रहा है। इस साल अप्रैल में मद्रास हाईकोर्ट के मदुरई बेंच ने इस ऐप को आपत्तिजनक कंटेंट फैलाने की वजह से बैन कर दिया था। यही नहीं सुप्रीम कोर्ट ने Google और Apple से इसे App Store से हटाने के भी निर्देश दिए थे। हालांकि, इस ऐप पर से मद्रास हाईकोर्ट ने अप्रैल में ही बैन हटा लिया था। यह ऐप फिलहाल भारत में काम कर रहा है।

यह भी पढ़ें: Vivo S1 का करें इंतजार या Vivo Z1 Pro खरीदना होगा बेहतर?

भारत में बढ़ता यूजरबेस

भारत में इस ऐप पर लगाए गए बैन के बावजूद इसके यूजरबेस में कमी नहीं आई। साल की पहली तिमाही में भारत में इसका यूजरबेस 88.6 मिलियन यानी की लगभग 9 करोड़ तक पहुंच गया। भारत में बैन लगने की वजह से इसके कम से कम 15 मिलियन फर्स्ट टाइम यूजर्स प्रभावित हुए। इसके बावजूद भी इसका यूजरबेस दिनों-दिन बढ़ता गया।

TikTok Phone

हाल ही में ByteDance ने जल्द TikTok Phone लॉन्च करने की घोषणा की है। हालांकि, यह फोन केवल चीन में ही लॉन्च किया जाएगा। इस वजह से भी TikTok पिछले दिनों सुर्खियों में बना रहा। इसके अलावा केन्द्र सरकार ने TikTok के डाटा प्राइवेसी लेकर भी हाल के दिनों में चिंता जाहिर की थी। इस ऐप के जरिए भारतीय यूजर्स का निजी डाटा लीक न हो सके इसके लिए कंपनी को रोडमैप तैयार करने को कहा गया। ये थीं वो वजहें जिसके कारण TikTok लॉन्च के महज एक साल के अंदर ही सुर्खियों में बना रहा।

यह भी पढ़ें: Huawei Y9 Prime (2019) Vs Realme X: किस पॉप-अप सेल्फी कैमरे वाले स्मार्टफोन को खरीदें?

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Harshit Harsh

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप