न्यूयॉर्क: ऑफिस कल्चर और सहकर्मियों के व्यवहार से दुखी है? उनके प्रति आपके गुस्से का गुबार भरता जा रहा है? उन लोगों के बारे में आपकी कुछ दबी हुई भावनाएं हैं? इन सबसे निजात के लिए एक नया रास्ता मिल गया है, जहां आप अपनी frustrations उतार सकते हैं, वह भी बिना बॉस को पता लगे।

एक मीडिया रिपोर्ट के हवाले से पता चला है कि इस एप का नाम Memo है। यह कर्मचारियों को अपने मालिक या बॉस के बारे में अपनी कहानियां शेयर करने और गुमनाम मैसेजेस पोस्ट करने का एक मौका देता है।

Oracle, Cisco, HP, eBay, Delta Airlines समेत अन्य कई कंपनियों के कर्मचारी इस एप पर पहले से ही लॉग ऑन हैं। यहां वह हर चीज जैसे- वर्कप्लेस कल्चर, पॉलिसीज, मैनेजरियल स्टाइल इत्यादि पर अपने विचार और अनुभव शेयर करते हैं।

कंपनी के अनुसार, Memo यूजर्स को LinkedIn या एक कॉरपोरेट इमेल एड्रेस के द्वारा वेरिफाइ किया जाता है और फिर Memo उस व्यक्ति के बारे में identifying data को एकदम से डिलीट कर देता है।

एप इन मैसेज को पब्लिक मैसेज बोर्ड में सम्मिलित कर देता है, जिन्हें सभी यूजर्स देख सकते हैं,इसी तरह प्राइवेट बोर्ड है जो सिर्फ दी गई कंपनी के कर्मचारियों तक ही सीमित रहता है।

एप यूजर्स को नोट, दिए गए नोट पर कॉमेंट करने और वेबसाइट से लिंक करने की परमिशन देता है।

यूजर्स जल्दी इस एप पर फाइल भी अपलोड करने में सक्षम होंगे, जिसमें फोटोग्राफ्स और एप के पब्लिक और प्राइवेट वर्ग से डॉक्यूमेंट्स डालना शामिल होगा।

Memo के फाउंडर Ryan Janssen ने कहा कि उन्होंने यह एप इसलिए विकसित किया था ताकि कर्मचारियों को अपनी कंपनियों की पॉलिसीज और प्रैक्टिसेज के बारे में अपना फीडबैक शेयर करने के लिए एक प्लेटफॉर्म मिल सकें।

Posted By: Monika minal