नई दिल्ली, टेक डेस्क। Google Play Store ने अपने प्लेटफॉर्म से करीब 600 एंड्रॉइड ऐप्स को डिलीट कर दिया है। ये ऐप्स यूजर्स को हानिकारिक विज्ञापन दिखा रही थीं। इस बात की जानकारी Google ने अपने ब्लॉग पोस्ट के जरिए दी है। ऐप्स को रिमूव करने के साथ कंपनी ने यह भी बताया कि उसने उन सभी ऐप्स को Play Store से बैन कर दिया है जिन्हें विज्ञापनों और पॉलिसी के चलते हटाया गया था। जिस तरह से स्मार्टफोन को लोग तेजी से अपना रहे हैं ऐसे में एड फ्रॉड्स का बढ़ना लाजमी दिखाई दे रहा है।

Google के अनुसार, हानिकारक विज्ञापन वो होते हैं जो यूजर्स को अलग तरीके से दिखाए जाते हैं। ये इस तरह से दिखाए जाते हैं जिससे यूजर्स द्वारा गलती से इन पर क्लिक हो जाता है। साथ ही डिवाइस के नॉर्मल यूसेज में हस्तक्षेप भी होता है। ब्लॉग पोस्ट में Google के एड ट्रैफिक क्वालिटी के सीनियर प्रोडक्ट मैनेजर Per Bjorke ने कहा है कि यह यूजर्स को गुमराह करने के लिए होता है। इससे यूजर एक्सपीरियंस खराब हो रहा है। इस तरह से यूजर्स कई ऐसे विज्ञपनों पर क्लिक कर देते हैं जो यूजर्स के पैसे भी खर्च करा सकते हैं।

वहीं, कंपनी कुछ नई तकनीक भी पेश करने पर विचार कर रही है जो हानिकारक विज्ञापन समेत गलत तरह से ट्रैफिक जनरेट करने वाली ऐप्स को डिटेक्ट करेगी। आपको बता दें कि जो ऐप्स Google Play Store से हटाई गई हैं वो मुख्य तौर पर चीन, हॉन्ग-कॉन्ग, भारत और सिंगापोर के डेवलपर्स द्वारा बनाई गई हैं। हालांकि, इन ऐप्स का नाम व डेवलपर का नाम नहीं बताया गया है। 

Google ने ToTok को किया था रिमूव: इससे पहले कंपनी ने ToTok ऐप को प्ले स्टोर से रिमूव कर दिया था। 9to5Google की एक रिपोर्ट में बताया गया था कि Google ने अपने प्ले स्टोर से इस ऐप को हटा दिया है। अमेरिका के आधिकारियों के अनुसार, इस ऐप को मिडल ईस्ट, एशिया, अफ्रीका और नॉर्थ अमेरिका में लाखों बार डाउनलोड किया जा चुका है। यहां पढ़ें पूरी खबर

Posted By: Shilpa Srivastava

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस