नई दिल्ली(टेक न्यूज)। आज हम आपको चार ऐसे ऐप्स के बारे में बताने जा रहे हैं जिनकी मदद से आप चोरी हुए फोन का पता लगा सकते हैं। इसके अलावा ये ऐप्स आपको चोर का हुलिया बताने में भी काम आते हैं। इन ऐप्स को आप गूगल प्ले स्टोर पर फ्री में डाउनलोड कर सकते हैं। लेकिन यहां ये ध्यान देना जरुरी है कि ये ऐप्स आपके तभी काम आएंगे जब फोन के चोरी होने से पहले आपने इन्हें अपने स्मार्टफोन में इंस्टॉल कर रखा होगा। तो जानते हैं इन ऐप्स के नाम और फीचर्स के बारे में।

Avast Mobile Security 2018- ऐप को गूगल प्ले स्टोर पर 10 करोड़ यूजर्स ने डाउनलोड किया है। ऐप को गूगल प्ले स्टोर पर 4.5 स्टार मिला है जिसे 52 लाख से ज्यादा यूजर्स ने रेटिंग दी है। इसकी साइज 27 एमबी है। यह वायरस स्कैनिंग, प्रोटेक्शन, बैकअप ऑप्शन, पॉवर सेविंग के साथ एंटी थेफ्ट सर्विस भी देता है। इस ऐप की मदद से आप अपने फोन को किसी भी जगह से लॉक कर सकते हैं। वहीं इसमें दिए गए Stealth Mode को एक्टिवेट करने पर चोर को पता नहीं लगेगा कि आपके फोन में Avast सिक्योरिटी लगा रखा है। ऐप सिम कार्ड बदलने से लेकर फोन के लॉक होने तक की आपको नोटिफिकेशन देता है। हालांकि इसके फीचर्स के लिए आपको इसका प्रिमियम पैक लेना होगा। यह ऐप आईओएस, एंड्रॉयड, विंडोज, लिनक्स और मैक ऑपरेटिंग सिस्टम को स्पोर्ट करता है।

Lookout Security & Antivirus- एप को गूगल प्ले स्टोर पर 10 करोड़ यूजर्स ने डाउनलोड किया है। इसे प्ले स्टोर पर 4.4 स्टार मिला है। ऐप को 9 लाख से ज्यादा यूजर्स ने रेटिंग दी है। इसकी साइज 13 एमबी है। इसमें आपको मालवेयर प्रोटेक्शन, सिक्योरिटी और ट्रैकिंग जैसी सर्विस मिलती है। इस ऐप के जरिए आप अपने फोन की बैटरी खत्म होने से पहले की लास्ट लोकेशन का पता लगा सकते हैं। इसके अलावा आप इससे अपने फोन फोन के डाटा का बैकअप बनाकर उसे डिलीट कर सकते हैं जिससे फोन के चोरी होने पर भी आपका डाटा सेफ रहता है। ऐप चोर की फोटो लेकर आपको मेल कर देता है। साथ ही आपको लास्ट लोकेशन की भी जानकारी देता है। यह ऐप आपको 2 सप्ताह के ट्रायल पर भी मिलता। इसके बाद आपको इसके फीचर्स के लिए 3 डॉलर प्रति महीना देना होगा।

Find My Device- इस ऐप की साइज 3.2एमबी है जिसे गूगल प्ले स्टोर पर 1 करोड़ यूजर्स ने डाउनलोड किया है। एप को प्ले स्टोर पर 4.3 स्टार मिला है। इसे 5 लाख से ज्यादा यूजर्स ने रेटिंग दी है। यह ऐप किटकैट या उससे ऊपर के ऑपरेटिंग सिस्टम वाले फोन पर ही काम करता है। इसके अलावा ऐप तभी काम करता है जब आपने अपने डिवाइस में गूगल अकाउंट से साइन इन और फोन के लोकेशन को इनेबल्ड कर रखा होगा। इस ऐप के जरिए आप लोकेशन हिस्ट्री की मदद से अपने फोन की लोकेशन का पता लगा सकते हैं। इसके अलावा आप आखिरी बार कनेक्टेड वाईफाई एक्सेस प्वाइंट की भी जानकारी पा सकते हैं। ऐप आपको यह भी जानकारी देता है कि फोन में कितनी बैटरी बची हुई है।

यह भी पढ़ें:

पहले से की गईं ये 5 तैयारियां फोन के चोरी होने या खोने पर आती हैं बड़े काम

Wi-fi स्पीड के अचानक से घटने पर बिना समय गवाए तुरंत करें यह काम

स्मार्टफोन को हैकर्स और वायरस से बचाने के लिए बहुत काम आएंगे ये 5 आसान तरीके 

Posted By: Shridhar Mishra