नई दिल्ली, टेक डेस्क। Android स्मार्टफोन यूजर्स के लिए एक चैटिंग ऐप खतरा बन सकता है। इस ऐप के जरिए यूजर्स के निजी डाटा चोरी किए जाने की संभावनाएं जताई जा रही हैं। यही कारण है कि UK बेस्ड ESET के रिसर्चर्स ने यूजर्स को अपने Android स्मार्टफोन में से इस चैटिंग ऐप को डिलीट करने का आगाह किया है। रिसर्चर्स के मुताबिक, इस चैटिंग ऐप को कई स्मार्टफोन ब्रांड्स जैसे कि Huawei, Samsung, Google के डिवाइसेज में लाखों यूजर्स ने डाउनलोड किए हैं। यह ऐप इन यूजर्स के फोन में से उनकी निजी जानकारियां जैसे कि ई-मेल अड्रेस, फोन नंबर, तस्वीरें आदि चोरी कर सकता है।

ESET के रिसर्चर्स का दावा है कि इस Welcome Chat ऐप को कई Android फोन यूजर्स ने डाउनलोड किए हैं। उन्हें पता चला है कि यह Malicious ऐप एक Spy (जासूस) के साथ आता है जो यूजर्स के फोन में से निजी जानकारियों को चुरा कर हैकर्स तक पहुंचाता है। इसकी वजह से यूजर्स के पर्सनल डाटा सिक्युरिटी पर खतरा है। हालांकि, Welcome ऐप ने क्लेम किया है कि उनका ऐप सुरक्षित है और ESET के रिसर्चर्स का दावा सही नहीं है। जबकि, ESET के रिसर्चर Lukas Stefanko ने कहा है कि ऐप कंपनी द्वारा इसे सुरक्षित बताए जाने का दावा गलत है, कुछ भी छिपा नहीं है।

उन्होंने आगे कहा कि न सिर्फ Welcome Chat एक Espionage (जासूसी) टूल है बल्कि ये यूजर्स के स्मार्टफोन डाटा को इंटरनेट पर भेजता है, जिसे फ्री में कोई भी डाउनलोड कर सकता है। इस ऐप को कभी भी आधिकारिक Android ऐप स्टोर पर उपलब्ध नहीं कराया गया है। उन्होंने आगे कहा कि घुसपैठ की अनुमति की इतनी व्यापक सूची आम तौर पर पीड़ितों को संदिग्ध बना सकती है - लेकिन एक मैसेजिंग ऐप के साथ, यह स्वाभाविक है कि ऐप के लिए वादा किए गए कार्य को पूरा करना आवश्यक है।

आपको बता दें कि कल ही भारत में भी 47 और चीनी ऐप्स को बैन किए गए हैं। इन ऐप्स को यूजर्स के निजी डाटा के चोरी की वजह से ही बैन किए गए हैं। इससे पहले भी देश की सुरक्षा और संप्रभुता के लिए 59 ऐप्स बैन किए गए थे, जिनमें TikTok समेत कई चीनी ऐप्स शामिल थे। यही नहीं, मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, अभी भी 247 ऐसे ऐप्स रडार पर हैं (जिनमें PUBG Mobile भी शामिल हैं) जिन्हें क्लोजली मॉनिटर किया जा रहा है।

Posted By: Harshit Harsh

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस