Vastu Tips: आजकल कई लोग वास्तुशास्त्र को फॉलो करने लगा हैं। घर, मंदर, ऑफिस से अलग कुछ चीजों के लिए भी वास्तु के नियम लागू होते हैं। कई लोग वास्तुशास्त्र में भोजन करने के लिए दिशाओं का भी पालन करते हैं। इनके अनुसार, अगर व्यक्ति सही दिशा में बैठकर भोजन करें तो परिवार के सभी सदस्यों की सेहत अच्छी बनी रहती है। वहीं, अगर गलत दिशा में बैठकर भोजन किया जाए तो इससे कई समस्याएं पैदा होने लगती हैं। ऐसे में यह जानना जरूरी है कि किस दिशा में बैठकर भोजन करना सही रहता है। हालांकि, इसका कोई वैज्ञानिक आधार नहीं है। तो आइए जानते हैं इन दिशाओं के बारे में।

पूर्व दिशा:

अगर इस दिशा की तरफ मुख कर भोजन किया जाए तो इससे रोग और मानसिक तनाव दूर हो जाता है। साथ ही दिमाग को स्फूर्ति भी मिलती है। वो व्यक्ति या बुजुर्ग बीमार रहता है उसे भी इस दिशा में बैठकर भोजन करना चाहिए।

उत्तर दिशा:

इस दिशा में बैठकर जो व्यक्ति व्रत करते हैं तो उन्हें धन, विद्या एवं आध्यात्मिक शक्ति की प्राप्ति होती है। वहीं, अगर कोई व्यक्ति अपना करियर बनाना चाहता है तो उसे भी इसी दिशा में बैठकर भोजन करना चाहिए।

पश्चिम दिशा:

यह दिशा बेहद अच्छी मानी गई है। इस दिशा में अगर बैठकर भोजन किया जाए तो व्यापारिक, नौकरीपेशा लोगों के लिए अच्छा होता है। वहीं, जिन व्यक्तियों का दिमाग संबंधित कार्य है उन्हें भी इस दिशा में बैठकर भोजन करना चाहिए।

दक्षिण दिशा:

यह यम की दिशा कही जाती है। इस दिशा में बैठकर भोजन किया जा सकता है। लेकिन अगर आपके माता-पिता जीवित हैं तो इस दिशा में बैठकर भोजन नहीं करना चाहिए।

डिसक्लेमर

'इस लेख में निहित किसी भी जानकारी/सामग्री/गणना की सटीकता या विश्वसनीयता की गारंटी नहीं है। विभिन्न माध्यमों/ज्योतिषियों/पंचांग/प्रवचनों/मान्यताओं/धर्मग्रंथों से संग्रहित कर ये जानकारियां आप तक पहुंचाई गई हैं। हमारा उद्देश्य महज सूचना पहुंचाना है, इसके उपयोगकर्ता इसे महज सूचना समझकर ही लें। इसके अतिरिक्त, इसके किसी भी उपयोग की जिम्मेदारी स्वयं उपयोगकर्ता की ही रहेगी। ' 

kumbh-mela-2021

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप