Feng Shui Wealth Tips: जीवन में समृद्धि हासिल करने के लिए सबसे आवश्यक चीज है नए, रचनात्मक और व्यावहारिक विचार और अच्छा निर्णय लेने की क्षमता। जो लोग सफल हैं, वे निश्चित ही अन्य लोगों की अपेक्षा बेहतर सोच-विचार करने के साथ ही समझदारी भरे निर्णय भी ले सकते हैं। इस प्रकार के विचार सकारात्मक माहौल की उपज होते हैं। एक नकारात्मक वातावरण में व्यक्ति अच्छे निर्णय लेने में असफल रहता है। फेंगशुई के नियम आपके आसपास के वातावरण को आपके अनुकूल बनाकर आपको सही राह में आगे बढ़ने में बहुत सहायक होते हैं। आइये वास्तुकार संजय कुड़ी से जानते हैं कि फेंगशुई के अनुसार कौन से उपाय धन और सुख-समृद्धि हासिल करने में मददगार होते हैं।

सिट्रीन क्रिस्टल

सिट्रिन क्रिस्टल समृद्धि प्राप्त करने के फेंगशुई के सबसे प्रभावकारी उपायों में से एक है। यह चमकदार क्रिस्टल नकारात्मक ऊर्जाओं को दूर करने में सहायता करता है। इसे घर में एक वेल्थ कार्नर में रखने के साथ ही आप चाहें, तो इसे अपने ऑफिस में भी रख सकते हैं।

फेंगशुई के समृद्धि संबंधी रंग

रंगों का प्रभाव प्रत्यक्ष और अप्रत्यक्ष रूप से हमारे जीवन के सभी पक्षों पर पड़ता है। हमारी आर्थिक स्थिति भी इस संबंध में कोई अपवाद नहीं है। फेंगशुई के अनुसार रंगों का उपयोग बेहद लाभकारी होता है। गोल्डन कलर फेंगशुई के उन प्रमुख कलर्स में से है, जिनका संबंध आर्थिक सम्पन्नता से जोड़ा जाता है। अगर आप घर में कोई सजावटी वस्तु लाते हैं, तो अगर वह सुनहरे या गोल्डन कलर में है या उसका बॉर्डर इस कलर में है तो यह आपके घर की सजावट करने के साथ ही आर्थिक समृद्धि को आकर्षित करने में भी बहुत उपयोगी साबित होगा।

फेंगशुई प्रतीक

फेंगशुई में ऐसे कई प्रतीक हैं, जिनका उपयोग धन-सम्पन्नता को आकर्षित करने के लिए किया जाता है। उदाहरण के लिए लॉफिंग बुद्धा, मनी फ्रॉग इत्यादि को आप घर में रख सकते हैं। इन्हें घर में ऐसे किसी स्थान पर रखा जाना चाहिए, जहां आप इन्हें प्रतिदिन आसानी से देख पाएं। दिशा के नजरिये से इन्हें उत्तर दिशा में रखा जा सकता है।

ध्यान रखने योग्य कुछ बातें-

1- फेंगशुई व अन्य कई प्राचीन सभ्यताओं में पानी की ऊर्जा का संबंध धन से है, इसलिए फेंगशुई में फाउंटेन को विशेष महत्व दिया गया है। फाउंटेन को रखने के लिए उत्तर व पूर्व दिशा को सबसे अच्छा माना गया है।

2- घर का मुख्य द्वार फेंगशुई में ‘ची’ यानी की प्राण ऊर्जा के प्रवेश के लिए सबसे प्रमुख स्थान होता है। अतः मुख्य द्वार पर किसी प्रकार का अवरोध नहीं होना चाहिए। इसके आसपास के स्थान को साफ़ बनाये रखें।

डिसक्लेमर

'इस लेख में निहित किसी भी जानकारी/सामग्री/गणना की सटीकता या विश्वसनीयता की गारंटी नहीं है। विभिन्न माध्यमों/ज्योतिषियों/पंचांग/प्रवचनों/मान्यताओं/धर्मग्रंथों से संग्रहित कर ये जानकारियां आप तक पहुंचाई गई हैं। हमारा उद्देश्य महज सूचना पहुंचाना है, इसके उपयोगकर्ता इसे महज सूचना समझकर ही लें। इसके अतिरिक्त, इसके किसी भी उपयोग की जिम्मेदारी स्वयं उपयोगकर्ता की ही रहेगी।'

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप