Home Vastu Tips: घर बनवाते समय आजकल हर डिजाइन और ट्रेंड का ध्यान रखा जाता है। ऐसे में कई बार घर की गलत दिशा में खास चीजों को रखने से वास्तु दोष बन सकता है, जिससे घर में बड़ी परेशानियां हो सकती है। ज्योतिषाचार्या साक्षी शर्मा के अनुसार आइए आज आपको बताते हैं कि घर की दिशाओं का सही उपयोग कैसे कर सकते हैं।

उत्तर दिशा

वास्तु के मुताबिक, घर की उत्तर दिशा को भगवान कुबेर का स्थान माना जाता है, इसलिए इस दिशा में तिजोरी या अलमारी का रखना शुभ माना जाता है। इसके अलावा कोई भी दूसरी चीज इस स्थान पर न रखें।

पूर्व दिशा

वास्तु के मुताबिक, पूर्व दिशा के स्वामी सूर्य देव और इंद्र देव होते हैं, इसलिए इस जगह को हमेशा खाली रखना चाहिए। नया घर बनवाने वाले ध्यान रखें कि घर के इस स्थान पर सूर्य की किरणों का आना बहुत जरूरी होता है।

दक्षिण दिशा

वास्तु के मुताबिक, घर की दक्षिण दिशा में हमेशा भारी सामान होना चाहिए। ये जगह खाली न हो और यहां टॉयलेट या बाथरूम भी न बनाएं। इससे घर की सुख-शांति भंग होगी।

पश्चिम दिशा

बाथरूम या टॉयलेट बनाने के लिए ये दिशा सबसे सही मानी जाती है। आप इस दिशा में किचन भी बना सकते हैं, लेकिन ध्यान रखें कि किचन और बाथरूम सटाकर न बनाएं।

ईशान कोण

ईशान कोण को भगवान शिव का स्थल माना जाता है, इसलिए इस दिशा में पूजा घर बनवाएं। इस दिशा का स्वामी गुरु को माना जाता है।

जब भी आप घर बनवाएं तो वास्तु की दिशाओं का ध्यान रखकर विभिन्न स्थानों को बनवाएं। यह आपकी तरक्की में मददगार हो सकता है। 

डिसक्लेमर

'इस लेख में निहित किसी भी जानकारी/सामग्री/गणना की सटीकता या विश्वसनीयता की गारंटी नहीं है। विभिन्न माध्यमों/ज्योतिषियों/पंचांग/प्रवचनों/मान्यताओं/धर्मग्रंथों से संग्रहित कर ये जानकारियां आप तक पहुंचाई गई हैं। हमारा उद्देश्य महज सूचना पहुंचाना है, इसके उपयोगकर्ता इसे महज सूचना समझकर ही लें। इसके अतिरिक्त, इसके किसी भी उपयोग की जिम्मेदारी स्वयं उपयोगकर्ता की ही रहेगी। '

kumbh-mela-2021

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप