Feng shui Tips of Crystal Globe: फेंगशुई, जिसे चीन के वास्तुशास्त्र के नाम से भी जाना जाता है। विशेष रूप से सकारात्मक और नकारात्मक ऊर्जा के संतुलन के सिद्धांत पर कार्य करता है। फेंगशुई में सकारात्म ऊर्जा को ‘ची’ और नकारात्मक ऊर्जा को ‘यांग’ कहा जाता है। फेंगशुई के अनुसार हम अपने जीवन में सफलता और तरक्की पाते हैं ची या सकारात्मक ऊर्जा की अधिकता से। इसलिए अगर हमें ऐसे प्रयास करने चाहिए जिनसे यांग यानि नकारात्मक ऊर्जा में कमी आये या ची में वृद्धि हो। ऐसा ही एक उपाय है क्रिस्टल ग्लोब। आइए जानते हैं इसके बारे में...

1-क्रिस्टल ग्लोब को फेंगशुई में ची यानि सकारात्मक ऊर्जा का भंडार माना जाता है। माना जाता है कि अपने घर, ऑफिस या दुकान में क्रिस्टल ग्लोब को रखने से नकारात्मकता दूर हो जाती है और लाभ में वृद्धि होती है।

2- क्रिस्टल ग्लोब किसी भी दिशा में रखा जा सकता है, लेकिन इस ग्लोब को दक्षिण या दक्षिण-पूर्व दिशा में रखना ज्यादा लाभदायक होता है।

3- क्रिस्टल ग्लोब को घर में रखने से सकारात्मक ऊर्जा में वृद्धि होती है तथा पारिवारिक कलह और मन-मुटाव दूर होते हैं। परिवार के लोगो की तरक्की होती है।

4- अगर आपके परिवार में कोई समस्या या अनबन रहती हो तो क्रिस्टल ग्लोब को ड्राइंगरूम में रखना चाहिए। जहां से सबकी नजर उस पर पड़े, ऐसा करने से निगेटिविटी दूर होती है।

5- बिजनेस में तरक्की पाने के लिए आपको अपने ऑफिस की टेबल या शॉप में क्रिस्टब ग्लोब रखना चाहिए। फेंगशुई के अनुसार क्रिस्टल ग्लोब से निकलने वाली सकारात्मक ऊर्जा से व्यापार में वृद्धि करती है।

6- फेंगशुई के अनुसार स्टूडेंटस को अपने कमरे में क्रिस्टल ग्लोब जरूर रखना चाहिए। ऐसा करने से उनकी एकाग्रता और याद करने की क्षमता में वृद्धि होती है।

7- फेंगशुई अनुसार क्रिस्टल ग्लोब में लगी हुई मेटल रिंग गोल्डन रंग की होनी चाहिए। गोल्डन रिंग का क्रिस्टल ग्लोब अधिक लाभदायक माना जाता है।

डिस्क्लेमर

''इस लेख में निहित किसी भी जानकारी/सामग्री/गणना में निहित सटीकता या विश्वसनीयता की गारंटी नहीं है। विभिन्न माध्यमों/ज्योतिषियों/पंचांग/प्रवचनों/मान्यताओं/धर्म ग्रंथों से संग्रहित कर ये जानकारी आप तक पहुंचाई गई हैं। हमारा उद्देश्य महज सूचना पहुंचाना है, इसके उपयोगकर्ता इसे महज सूचना के तहत ही लें। इसके अतिरिक्त इसके किसी भी उपयोग की जिम्मेदारी स्वयं उपयोगकर्ता की ही रहेगी।''

 

Edited By: Jeetesh Kumar