नई दिल्ली, Shukrawar ke Daan: पंचांग के अनुसार, सप्ताह का हर एक दिन किसी न किसी देवी-देवता को समर्पित होता है। इसी तरह शुक्रवार का दिन मां लक्ष्मी को समर्पित है। शुक्रवार के दिन मां लक्ष्मी की विधिवत पूजा करने से हर कामना पूरी होने के साथ कभी भी पैसों की तंगी का सामना नहीं करना पड़ेगा। इसके साथ ही शुक्रवार के दिन दान का बहुत अधिक महत्व है। माना जाता है कि इस दिन दान करने से मां लक्ष्मी ही नहीं प्रसन्न होती हैं बल्कि कुंडली में मौजूद ग्रह दोषों से भी छुटकारा मिलता है। आइए जानते हैं कि शुक्रवार के दिन किन चीजों का दान करना है शुभ।

ग्रहों की बात करें, तो शुक्रवार के दिन शुक्र देव से संबंधित है। इसलिए इस दिन दान पुण्य करने से कुंडली में शुक्र ग्रह भी मजबूत होता है।

तस्वीरों में समझें- गुड़ से कौन से उपाय करना होगा लाभकारी

सोलह श्रृंगार

शुक्रवार के दिन किसी को सोलह श्रृंगार दें जिसमें लाल रंग की चूड़ियां, लाल साड़ी आदि शामिल करें। ऐसा करने से मां लक्ष्मी की कृपा से हर तरह के कष्टों से छुटकारा मिल जाएगी और धन धान्य की बढ़ोत्तरी होगी।

सफेद मिठाई का करें दान

शुक्रवार के दिन मां लक्ष्मी के साथ-साथ कुंडली में शुक्र ग्रह की स्थिति को ठीक करने के लिए सफेद चीजों का दान करना शुभ होगा। इसके साथ ही कन्याओं को सफेद रंग की मिठाई दें। इससे ग्रह दोष से भी छुटकारा मिलेगा।

इन चीजों का भी करें दान

शुक्रवार के दिन सफेद चीजें जैसे चीनी, शक्कर, नमक आदि का दान कर सकते हैं। इससे शुक्र दोष से छुटकारा मिलेगा। इसके साथ ही मां लक्ष्मी के आशीर्वाद से घर में सुख-शांति और सौभाग्य की बढ़ोतरी होगी।

रेशमी वस्त्र करें भेंट

शुक्रवार के दिन घर या रिश्तेदारों में मौजूद महिलाओं को रेशमी वस्त्र दें। ऐसा करने से वैवाहिक जीवन में खुशहाली बनी रहती हैं और हर तरह के कष्टों से छुटकारा मिल जाता है।

किताबें को दान

शुक्रवार के दिन पुरानी किताबें या पुराने जूते किसी गरीब को दान करने से सोया हुआ भाग्य जगाया जा सकता है।

धर्म संबंधी अन्य खबरों के लिए क्लिक करें

Pic Credit- Freepik

डिसक्लेमर

इस लेख में निहित किसी भी जानकारी/सामग्री/गणना की सटीकता या विश्वसनीयता की गारंटी नहीं है। विभिन्न माध्यमों/ज्योतिषियों/पंचांग/प्रवचनों/मान्यताओं/धर्मग्रंथों से संग्रहित कर ये जानकारियां आप तक पहुंचाई गई हैं। हमारा उद्देश्य महज सूचना पहुंचाना है, इसके उपयोगकर्ता इसे महज सूचना समझकर ही लें। इसके अतिरिक्त, इसके किसी भी उपयोग की जिम्मेदारी स्वयं उपयोगकर्ता की ही रहेगी।

Edited By: Shivani Singh