Shani Margi 2021: सूर्य पुत्र श​नि अभी वक्री चाल से चल रहे हैं, यानी शनि की उल्टी चाल। शनि इस वर्ष 23 मई से ही उल्टी चाल चल रहे हैं। अब इनकी चाल बदलने वाली है। अब वे मार्गी होने वाले हैं। अर्थात् शनि अब सीधी चाल चलने वाले हैं। इस वर्ष शनि 11 अक्टूबर दिन सोमवार को सुबह 08 बजे से मार्गी हो जाएंगे। ऐसा होने से कई राशियों को लाभ होगा, उनकी शनि दोष के कारण मिलने वाली पीड़ा दूर होगी, जबकि कुछ राशियों की दिक्कतें बढ़ जाएंगी।

इन राशियों को होगा लाभ

शनि के मार्गी होने से मिथुन, तुला, धनु, मकर और कुंभ राशि वालों की दिक्कतें कम होंगी। वहीं, मेष, कर्क, कन्या, मकर और कुंभ राशि वालों के लिए शुभ समय प्रारंभ होने वाला है। उनकी कई समस्याएं दूर हो जाएंगी।

शनि अगले वर्ष बदलेंगे राशि

शनि अभी मकर राशि में गोचर कर रहे हैं। 29 अप्रैल 2022 को शनि राशि परिवर्तन कर मकर से कुंभ में प्रवेश करेंगे। कुंभ में शनि के गोचर से कुछ राशियों की परेशानियां बढ़ेंगी, तो कुछ को इसका लाभ​ मिलेगा।

शनि दोष से बचने के उपाय

जिन राशियों पर अभी शनि की साढेसाती या ढैय्या चल रही है, वे लोग शनि दोष की पीड़ा और परेशानियों को दूर करने के लिए कुछ ज्योतिष उपाय कर सकते हैं। इससे उनकी समस्याएं कम हो सकती हैं। आइए जानते हैं इसके बारे में।

1. शनिवार के दिन शनि देव को सरसों का तेल अर्पित करें। शनि मंदिर में जाकर शनि देव के दर्शन करें। इससे श​नि दोष दूर होता है।

2. शनिवार के दिन हनुमान जी की पूजा करने और हनुमान चालीसा का पाठ करने से भी शनि पीड़ा से मुक्ति मिलती है।

3. शनि दोष से मुक्ति के लिए आप शनिवार के दिन पीपल के पेड़ की पूजा करें, जल अर्पित करें और सरसों के तेल का दीपक जलाएं।

4. शनिवार के दिन काली उड़द, काला वस्त्र, काला तिल आदि का दान किसी पात्र व्यक्ति को करें। ऐसा करने से शनि देव प्रसन्न होते हैं और दोष दूर होता है।

5. शनि दोष से मुक्ति के लिए शनिवार को आप जूते, सरसों तेल, लोहे के बर्तन या सात तरह के मोटे अनाज का भी दान कर सकते हैं।

डिस्क्लेमर

''इस लेख में निहित किसी भी जानकारी/सामग्री/गणना में निहित सटीकता या विश्वसनीयता की गारंटी नहीं है। विभिन्न माध्यमों/ज्योतिषियों/पंचांग/प्रवचनों/मान्यताओं/धर्म ग्रंथों से संग्रहित कर ये जानकारी आप तक पहुंचाई गई हैं। हमारा उद्देश्य महज सूचना पहुंचाना है, इसके उपयोगकर्ता इसे महज सूचना के तहत ही लें। इसके अतिरिक्त इसके किसी भी उपयोग की जिम्मेदारी स्वयं उपयोगकर्ता की ही रहेगी।''

Edited By: Kartikey Tiwari