शुभ है मंगल और बृहस्‍पति का मेल 

मंगल ग्रह तुला राशि में 30 नवम्बर 2017 को सुबह 5 बजकर 36 मिनट पर प्रवेश करेगा। पं. विजय त्रिपाठी ‘विजय’ का कहना है कि बृहस्पति पहले से ही तुला राशि में विद्यमान है। इस तरह मंगल के तुला राशि में प्रवेश करने के कारण गुरू और मंगल की युति बनेगी। यह युति शुभकारक मानी जाती है। इस स्थिति में मंगल उच्चाभिलाषी हो जाता है, और बृहस्पति नीचाभिलाषी है।

 

इन राशियों पर सकारात्‍मक प्रभाव

यह स्थिति , मेष, कर्क, सिंह, वृश्चिक, धनु और मीन राशि के लोगों के लिए शुभदायक रहेगी। पूर्वनियोजित कार्यों में सफलता मिलेगी, आत्मा और मन दोनों खुश रहेंगे, दाम्पत्य जीवन में भरपूर उमंग और उल्लास रहेगा। राहु से मंगल का चतुर्थ-दशम केन्द्र-योग और केतु से दशम-चतुर्थ केन्द्र योग रहेगा, यह स्थिति 15 जनवरी 2018 तक रहेगी। इसके फलस्वरूप इन राशि वालों का काम या प्रदर्शन बाकी अन्य लोगों से भिन्न हो सकता है। ये न सिर्फ बेहतर योजना बना पाएंगे, बल्कि कई नकारात्मक तत्वों को बाधाओं का रूप लेने से भी रोक सकेंगे। आर्थिक क्षेत्र/शेयर बाजार में निवेश शुभदायक रहेगा।

ये लोग रहें संभल कर 

वृष, मिथुन, कन्या, तुला, मकर और कुम्भ राशि वालों के लिए थोड़ा सतर्कता बरतने का समय है। झगड़ों और विवादों में जबरन लपेटे जा सकते हैं, या इनको उग्रता व रूखाई का निशाना बनाया जा सकता है। बेहतर होगा इस दौरान विवादों का सामना करना व किसी विवादित व्यक्ति का साथ देना छोड़ दें। आर्थिक क्षेत्र/शेयर बाजार में कोई भी निवेश शुभदायक नहीं। व्यवसाय की दृष्टि से बड़े लक्ष्यों/चुनौतियों के लिए पूरी तौर पर तैयार रहें।

 

Posted By: Molly Seth