सामान्य फल- विरोधी भी आप की प्रशंसा करेंगे व्यक्तित्व भी प्रभावशाली होगा। बौद्धिक चिन्तनों से असली समस्या भी हल होगी । सामाजिक अथवा जातिगत संस्थाओं मे मान सम्मान बढ़ेगा। कला संस्कृति से सम्बन्धित कार्यां में व्यस्तता संभव। शुभ समाचारों की प्राप्ति होगी, मित्रों से मेल मुलाकात से भी अल्प संतोष रहेगा। धैर्य से काम ले। आमोद प्रमोद आदि का अवसर मिलेगा। शनै -शनै लाभ होगा। राज्याधिकारियों पर विजय प्राप्त होगी। टकराव की स्थिति से बचें। आप मेहनती हैं और दूसरों के लीडर बनना चाहते हैं। आपकी प्रबल इच्छा शासन करना और आदेश देना है। 

आपकी कार्यशैली- आपकी प्रवृत्ति धार्मिक होती है और आप आमतौर पर किसी धार्मिक या परोपकारी संगठन से भी जुड़े रहते हैं। आप कला और साहित्य में भी रूचि लेते हैं। आपमें यात्रा करने की प्रबल इच्छा होती है और आप अभिजात्य वर्ग में उठना-बैठना पसंद करते हैं। आप लोगों से एक सीमा तक ही संपर्क रखना पसंद करते हैं। मुंहफट नजरिए के साथ शांत दृष्टिकोण आपकी अंदरूनी शक्ति है और आपमें जबर्दस्त भावनात्मक संतुलन होता है। आपका रूखा व्यवहार आपके लिए नुकसानदायक हो सकता है।

प्रेम रोमांस- आप अपने पार्टनर का ध्यान रखते हैं और उसके प्रति प्रेम प्रदर्शन करते हैं। चूंकि आप हठी प्रवृत्ति के होते हैं, इसलिए आपके पार्टनर से आपके संबंध ठीक-ठाक नहीं चल पाते। अक्सर आप ऐसे व्यक्ति के प्रति आकर्षित होंगे, जो आत्मविश्वास से पूर्ण और सफल हो। 

बिजनेस और आर्थिक स्थिति- जिस तरह अच्छी तरह सजी हुई मेज और आदर्श एटिकेट महत्वपूर्ण होते हैं उसी तरह बड़े-बड़े भवन, महल और भव्य इमारतें आपको आकर्षित करतीं हैं तथा विशाल भवनों के निर्माण में आपकी गहरी रूचि होती है। आपके लिए टीचिंग लेखन, एडवरटाइजिंग सेल्समैन व्यापार व्यवसाय (खासतौर पर आयात-निर्यात) उचित व्यवसाय है। आपके लिए सेवा व्यवसाय ठीक रहेगा, जिससें मस्तिष्क की बुद्धि और हाथ की कुशलता दोनों की ही जरूरत हो।  यदि आप नौकरी में हैं तो 20, 32 और 44 वर्ष की उम्र में आप किसी के विरोध या चालबाजी के शिकार हो सकते हैं।

स्वास्थ्य- अपने स्वास्थ्य को लेकर परेशान रहेंगे। खास तौर पर पेट या आंखों को लेकर आप चिंतित हो सकते हैं परन्तु आपकी चिंताए मेडिकल टेस्ट करवाने के बाद समाप्त हो जाएंगी।

आश्चर्यजनक बात- एक बार आपको गुस्सा आ जाए तो उस पर काबू करना बहुत मुश्किल होता हैं। ऐसे लोगों के साथ आपकी लड़ाई अक्सर करो या मरो की लड़ाई बन जाती है। 

चेतावनी- आपकी बेचैनी मानसिक असुरक्षाओं के कारण होती है, जो आपको अपने लक्ष्य की तरफ ले जाने में बाधक इसी पर आप नियन्त्रण करें।

शुभ दिन- सोमवार आैर शुक्रवार।

शुभ रंग- सफेद, क्रीम, आैर  लवली पिंक।

पं. विजय त्रिपाठी विजय   

Posted By: Molly Seth

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप