सामान्य फल- आमतौर पर आप सुंदर होते हैं और आपके नैन नक्श बहुत तीखे होते हैं। आपकी भौहें सुंदर आकार की और आपके होंठ आकर्षक होते हैं। आपकी आंखे कई बार बहुत पैनी गहनता से देख सकती है। आप बुद्धिमान सावधान और परिश्रमी हैं। आप सक्रिय और कर्मठ हैं और साथ में जुटकर काम करने वाले भी। आप स्वभाव से गंभीर है और विनम्रता आपके प्रधान लक्षणों में से एक है। आपमें सेवाभाव काफी है और आपमें कर्तव्य का प्रबल बोध भी रहता है। 

आपकी कार्यशैली- आपमें नेतृत्व करने की क्षमता होती है। सतत् परिश्रम से आपको सफलता मिलती है, जो लम्बे ओर कठोर श्रम का परिणाम होती है। आप खर्च करने के मामले में प्रैक्टिकल और मितव्ययी होते हैं। आप वफादार होते हैं। आपके प्रैक्टिकल स्वभाव से कई बार लोग यह समझ बैठते हैं कि आपमें भावनाएं कम हैं।

प्रेम रोमांस- आप जल्दबाजी में विवाह नहीं करते और तभी करते हैं जब आपको यह विश्वास हो जाए कि सामने वाला भी आपसे प्रेम करता है, परन्तु आपका प्रेम स्थाई या स्थिर नहीं रहता। ऐसा इसलिए नहीं होता, क्योंकि आपमें बेवफाई का जन्मजात गुण होता है, बल्कि ऐसा दूसरों के प्रभाव के कारण होता है।

बिजनेस और आर्थिक स्थिति- आमतौर पर आप अपनी किस्मत खुद बनाते हैं और अपनी सफलता की कहानी खुद लिखते हैं। आप बहुमुखी प्रतिभा के धनी हैं और बिजनेस में चतुर हैं। आप अपने दम पर पैसा कमाते हैं, आपको पैसा किसी लाटरी या पैतृक संपत्ति से नहीं मिलता। पैसा आपके जीवन में थोड़ा विलम्ब से आता है, आपकी उम्र के 42 वर्ष पूरे होने के बाद। यदि आप नौकरी में हैं तो अपने लक्ष्यों को हासिल करने के लिए दूसरे लोगों का उपयोग करने से परहेज नहीं करते। आमतौर पर इनका लक्ष्य शक्ति हासिल करना होता है।

स्वास्थ्य- आप संधिवात या गाउट से ग्रस्त हो सकते हैं। आपको लिवर की समस्या भी हो सकती है, जो आपके निराशा के मूड के कारण होती है। आपको तनाव से बचना चाहिए। 

आश्चर्यजनक बात- आपका घर अलंकृत नहीं, बल्कि सुरूचिपूर्ण होना चाहिए। आपको बड़ा बगीचा लगाना अच्छा लगता है। घर में बहुत से शेल्फ और कबर्ड भी आपको पसंद हैं। आप संगीत खुशबू और लाइटिंग भी पसंद करते हैं।

चेतावनी- आप में निराशा और हताशा के मूड का शिकार होने की प्रवृत्ति होती है। कई बार आप अपनी निराशा को दूर करने के लिए शराब पीना शुरू करे देते हैं और परिणामस्वरूप पक्के शराबी बन जाते हैं, इसलिए आपको शराब और मादक द्रव्यों से दूर रहना चाहिए।

शुभ दिन- रविवार और शनिवार।

शुभ रंग- ग्रे, काला, नीला, और ब्राउन।

Posted By: Molly Seth

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप