Happy Karwa Chauth 2021: अखंड सौभाग्य का पर्व करवा चौथ आज, 24 अक्टूबर को देश भर में मनाया जाएगा। इस दिन सुहागिन महिलाएं पति की दीर्घ आयु और सुखी वैवाहिक जीवन की कामना से करवा माता का व्रत करती हैं। पूरे दिन अन्न-जल त्याग कर व्रत रखा जाता है और व्रत का पारण रात में चंद्रमा को अर्घ्य दे कर किया जाता है। ये व्रत पति-पत्नि के बीच प्रेम और प्यार का प्रतीक है। लोग साल भर करवा चौथ के व्रत का इंतजार करते हैं। इस दिन आप अपने जीवन साथी और साथ में व्रत रख रही सहेलियों को करवा चौथ व्रत के शुभकामना संदेश भेज सकते हैं। जो उनके प्रति आपके प्यार और साथ का पैगाम बन कर उनके व्रत को सफल बनाएगा.....

करवा चौथ व्रत के शुभकामना संदेश

1. प्रिया प्रेम व्रत है राखो उत्सव पावन आयो रे

चरण पिया संसार म्हारो पिया म्हारो प्यारो रे

शौर्य, यश, दीर्घायु, है यही प्रार्थना

करवा चौथ आयो रे

करवा चौथ की शुभकामनाएं!

2. जो हमें आपकी

एक झलक मिल जाए

ते ये व्रत सफल हो जाए

हम तो बैठे हैं आपके इंतजार में

आप आए और ये व्रत पूरा हो जाए।

करवा चौथ की हार्दिक बधाई...

3. चांद में दिखती है

मुझे मेरे पिया की सूरत

चांद संग चांदनी सी है

मुझे भी उनकी जरूरत।

करवा चौथ की हार्दिक बधाई...

4. आज करवाचौथ पर मन में हजारों चाह हैं,

सब सुहागिन तक रही केवल तुम्हारी राह हैं,

चाहती हैं सजनिया साजन बसे हों पास में।

आ भी आओ चन्द्रमा तारों भरे आकाश में।

Happy Karva Chauth 2021….

5. सुख-दुख में हम-तुम

हर पल साथ निभाएंगे

एक जन्म नहीं सातों जन्म

पति-पत्नी बन आएंगे।

करवा चौथ की हार्दिक बधाई...

6. हाथों में रंग बिरंगी सतरंगी,

चूड़ियां है सजाए गोरी सजनी,

सजी है वो दुल्हन सी प्यारी-न्यारी माथे पे अपनी भरे मांग सिंदूरी

करवा चौथ की हार्दिक बधाई!

6. सुंदरता की प्रतिस्पर्धा अपने पूरे शबाब पर है..

आज एक चांद दूसरे चांद के इंतजार में है।

शुभ करवा चौथ!

7. चांद की रोशनी ही पैगाम है लाई आपके लिए मन में खुशियां हैं छाई

सबसे पहले आपको हमारी तरफ से करवा चौथ की ढेर सारी बधाई!!

8. जो हमें आपकी

एक झलक मिल जाए

ते ये व्रत सफल हो जाए

हम तो बैठे हैं आपके इंतजार में

आप आए और ये व्रत पूरा हो जाए।

करवा चौथ 2021 की हार्दिक बधाई...

डिसक्लेमर

'इस लेख में निहित किसी भी जानकारी/सामग्री/गणना की सटीकता या विश्वसनीयता की गारंटी नहीं है। विभिन्न माध्यमों/ज्योतिषियों/पंचांग/प्रवचनों/मान्यताओं/धर्मग्रंथों से संग्रहित कर ये जानकारियां आप तक पहुंचाई गई हैं। हमारा उद्देश्य महज सूचना पहुंचाना है, इसके उपयोगकर्ता इसे महज सूचना समझकर ही लें। इसके अतिरिक्त, इसके किसी भी उपयोग की जिम्मेदारी स्वयं उपयोगकर्ता की ही रहेगी।'

Edited By: Jeetesh Kumar