अमरनाथ यात्रा के दौरान तीर्थ यात्रियों को पूरी, हलवा, बर्गर, पराठा नसीब नहीं होगा। श्री अमरनाथ श्राइन बोर्ड ने इस साल कोल्ड ड्रिंक, तला भुना खाना और फास्ट फूड पर प्रतिबंध लगा दिया है।

एक मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, विशेषज्ञ कमेटी के सुझावों को ध्यान में रखते हुए बोर्ड ने यह फैसला किया है। श्राइन बोर्ड के डिप्टी मुख्य कार्यकारी अधिकारी पंकज आनंद ने कहा कि अमरनाथ जाने वाले तीर्थयात्रियों को केवल घी और तेल के बिना तैयार किया गया खाना परोसा जाएगा। इसके लिए पहलगाम और बालटाल से अमरनाथ जाने वाले रास्ते पर मौजूद सभी लंगर संस्थाओं, फूड स्टॉल और दुकानों को बोर्ड की ओर से एक मेन्यू दिया गया है।

इसलिए लगा प्रतिबंध

दरअसल, साल 2012 में अमरनाथ यात्रा के दौरान 130 तीर्थयात्रियों की मौत हो गई थी। इस पर सुप्रीम कोर्ट ने चिंता जाहिर की थी जिसके बाद विशेषज्ञ कमेटी का गठन किया गया था। हालांकि बाद के सालों में यह आंकड़ा कम हो गया, लेकिन पिछले साल हुई 40 लोगों की मौत से चिंता बरकरार है। अपनी रिपोर्ट में कमेटी ने इस बात पर जोर दिया कि ठंडी और तली हुई चीजें खाने से ऊंचाई पर जाने पर यात्रियों को सांस लेने में तकलीफ होती है।

धर्म से संबंधित समाचार पढ़ने के लिए यहां क्िलक करें-

Posted By: Rajesh Niranjan

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप