मोदी सरकार - 2.0 के 100 दिन

रसिक शर्मा, मथुरा। गिरिराज जी यानी विशालता मापने का कोई पैमाना नहीं। मगर भक्त और भगवान के अटूट रिश्ते के आगे न केवल पैमाने दरकिनार हो जाते हैं, बल्कि श्रद्धाभाव से सराबोर डोर आस्था को और मजबूती देती है। गोवर्धन में रक्षाबंधन पर बुधवार को 21 किलोमीटर में फैले गिरिराज धरण की विशाल शिलाओं को 25 हजार मीटर लंबा रक्षा सूत्र समर्पित होगा। हर एक मीटर में पांच-पांच राखियों की कतारें इस रक्षा सूत्र के सौंदर्य को चार चांद लगाएंगी।

पढ़ें: बुधवार को पूरे दिन मना सकते हैं रक्षाबंधन

तीन दर्जन से ज्यादा भक्तों की मेहनत से सात कोस लंबी रंगबिरंगी राखी अपनी किस्मत पर इठलाती नजर आ रही है। जतीपुरा मुखारबिंद मंदिर के सेवायत राम पुरोहित केअनुसार रक्षा सूत्र में ठाकुर जी की सेवा में प्रयुक्त होने वाली सोना राखी का विशेष प्रबंध किया गया है। 1.25 लाख राखियां 25 हजार मीटर लंबे रक्षा सूत्र में पिरोकर सात कोस में गिरिराज को धारण कराई जाएंगी।

रक्षाबंधन की अन्य खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

विभिन्न प्रकार के पुष्पों से सजी एक बड़ी राखी दानघाटी मंदिर में बांधी जाएगी। सप्तरंग में सजी राखी की खुशबू वातावरण में अलौकिकता का एहसास कराएगी। 21 किलोमीटर लंबे रक्षा सूत्र में राखी बांधने के लिए स्थानीय लोगों में भी उत्साह है।

मोबाइल पर ताजा खबरें, फोटो, वीडियो व लाइव स्कोर देखने के लिए जाएं m.jagran.com पर

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप