Satyanarayan Vrat Vidhi: आज कई लोग सत्यनारायण की पूजा और व्रत करते हैं। इस पूजा को पूरा दो तरह से सम्पूर्ण कि या जाता है। पहला व्रत और दूसरा कथा। कई लोग ऐसे होते हैं जो विष्णु जी के लिए व्रत करते हैं और कुछ लोग ऐसे होते हैं जो अपने घर में सत्यनारायण जी की पूजा कराते हैं जिसमें कथा भी सुनाई जाती है। इस पूजा को विद्वान ब्राह्मण द्वारा ही कराया जाता है। ब्राह्मण आपको शुभ मुहूर्त बताता है और उसी मुहूर्त पर पूजा को सम्पन्न कराता है। अगर आप सत्यनारायण की कथा और व्रत कर रहे हैं तो यहां हम आपको इस पूजा की व्रत विधि बता रहे हैं।

इस तरह करें सत्यनारायण व्रत और कथा:

इस पूजा के लिए दिनभर व्रत किया जाता है। जहां आपको पूजा करनी है उसे गाय के गोबर से पवित्र करें। फिर वहां एक अल्पना बनाएं। इसके ऊपर एक चौकी रखें। इस चौकी के चारों ओर केले के पत्तों लगाएं। फिर चौकी पर अष्टदल या स्वस्तिक बनाएं। इसके बीच में चावल रख दें। फिर इस पर लाल रंग का कपड़ा बिछाएं। फिर पान सुपारी से भगवान गणेश की स्थापना करें। इसके बाद सत्यनारायण जी की तस्वीर यहां रखें। इसके साथ ही श्री कृष्ण या नारायण की मूर्ति को भी स्थापित करें। सत्यनारायण के दायीं तरफ शंख रखें। फिर उसी तरफ साफ जल से भरा कलश रखें। एक कटोरी में शक्कर या चावल लें। इस कटोरी को कलश पर रख दें। इसी कटोरी पर नारियल भी रख दें।

फिर चौकी के बायीं ओर दीपक रखें। जहां आपने चौकी रखी है उसके आगे की तरफ नवग्रह मंडल बनाएं। इसके लिए एक सफेद कपड़ा लें। उस पर नौ जगह चावल की ढेरी रख दें। इसके बाद आप पूजा शुरू कर सकते हैं। प्रसाद में पंचामृत बनाएं। साथ ही गेंहू के आटे से बनी पंजीरी और फल भी रखें।

पूजा शुरू करने से पहले भगवान गणेश का नाम लें। उनकी आराधना करें। इसके बाद इंद्रादि दशदिक्पाल और अन्य देवी-देवताओं का आवाह्न करें। इसके बाद सत्यनारायण की पूजा शुरू करें। पूजा के दौरान ब्राह्मण द्वारा सुनाई जा रही कथा को श्रद्धापूर्वक और ध्यानपूर्वक सुनना चाहिए। भगवान सत्यनारायण के बाद मां लक्ष्मी और भगवान शिव की अर्चना भी करनी चाहिए। अंत में सभी भगवानों की आरती करें। फिर जो प्रसाद आपने बनाया है उसे सभी में वितरित कर दें। कहा जाता है कि श्री सत्यनारायण का पूजन पूर्णिमा या संक्रांति को किया जाना चाहिए। यह एक माह में एक बार ही किया जाता है।  

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस