Masik Shivratri 2021: नए वर्ष की पहली मासिक शिवरात्रि आज है। आज सोमवार भी है और आज का दिन शिवजी को समर्पित है। मासिक शिवरात्रि भी भोलेनाथ को ही समर्पित है। ऐसे में आज का दिन शिव भक्तों के लिए बेहद खास है। आज के दिन शिव भक्त व्रत करते हैं और शिवजी की पूजा-अर्चना करते हैं। मान्यता है कि जो भक्त आज के दिन पूजा-अर्चना करते हैं उन्हें सभी बाधाओं से मुक्ति मिल जाती है। इससे व्यक्ति के जीवन में सुख, शांति और समृद्धि बनी रहती है। आइए जानते हैं मासिक शिवरात्रि मुहूर्त और विशेष संयोग:

मासिक शिवरात्रि का शुभ मुहूर्त:

पौष मास, कृष्ण चतुर्दशी

चतुर्दशी प्रारंभ, 11 जनवरी, सोमवार, दोपहर 02 बजकर 32 मिनट से

चतुर्दशी समाप्त, 12 जनवरी, मंगलवार, दोपहर 12 बजकर 22 मिनट तक

मासिक शिवरात्रि पर विशेष संयोग:

पंचांग के अनुसार, हर मास के कृष्ण पक्ष की चतुर्दशी तिथि को मासिक शिवरात्रि मनाई जाती है। कहा जा रहा है कि इस बार मासिक शिवरात्रि पर विशेष संयोग बन रहा है। इस बार सोमवार के दिन ही मासिक शिवरात्रि का दिन भी पड़ रहा है। ऐसे में इस दिन जो व्यक्ति शिवजी की पूजा करेगे उसे विशेष पुण्य प्राप्त होगा।

मासिक शिवरात्रि का महत्व:

पौराणिक मान्यता के अनुसार, अगर कोई मासिक शिवरात्रि का व्रत या पूजा करे तो उसके कई प्रकार के दोष समाप्त हो जाते हैं। यह व्रत हर तरह की मनोकामनाएं पूरी करने वाला माना गया है। ऐसा कहा जाता है कि जिन कन्याओं के विवाह में देरी हो रही है या फिर किसी तरह की बाधा आ रही है उनकी भी समस्या का अंत हो जाता है। उन्हें मनोवांछित वर की प्राप्ति होती है।

डिस्क्लेमर

'इस लेख में निहित किसी भी जानकारी/सामग्री/गणना की सटीकता या विश्वसनीयता की गारंटी नहीं है। विभिन्न माध्यमों/ज्योतिषियों/पंचांग/प्रवचनों/मान्यताओं/धर्मग्रंथों से संग्रहित कर ये जानकारियां आप तक पहुंचाई गई हैं। हमारा उद्देश्य महज सूचना पहुंचाना है, इसके उपयोगकर्ता इसे महज सूचना समझकर ही लें। इसके अतिरिक्त, इसके किसी भी उपयोग की जिम्मेदारी स्वयं उपयोगकर्ता की ही रहेगी। '  

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

budget2021