Krishna Janmashtami 2019: देशभर में आज कृष्ण जन्माष्टमी की धूम है। लोग व्रत रखने के साथ ही आज रात्रि में भगवान बाल गोपाल का जन्मोत्सव मनाएंगे। देशभर के मंदिरों में जन्माष्टमी की विशेष व्यवस्था की गई है। ग्वालियर के फूलबाग स्थित ऐतिहासिक गोपाल मंदिर में आज भव्य जन्माष्टमी का आयोजन हो रहा है। इस दिन 50 करोड़ 11 लाख रुपए के कीमती जेवरातों से भगवान श्रीकृष्ण और राधा का श्रृंगार होता है। भगवान कृष्ण और राधा के भव्य स्वरूप के दर्शन के लिए दोपहर बाद से ही भक्तों का तांता लग जाता है।

सोने के मुकुट और पंचगढ़ी हार पहनेंगे भगवान कृष्ण

जन्माष्टमी के अवसर पर गोपाल मंदिर में भगवान कृष्ण को सोने का मुकुट, सफेद मोती वाला पंचगढ़ी हार, सात लढ़ी हार, सोने के तोड़े आदि पहनाया जाता है। पंचगढ़ी हार की कीमत करीब 6 लाख रुपये है। वहीं, सात लढ़ी हार की कीमत आज से 12 साल पहले 10 से 12 लाख रुपये आंकी गई थी। इस हार में 62 मोती और 55 पन्ने लगे हैं। वहीं कृष्ण भगवान के सोने के मुकुट और तोड़े की कीमत 50 लाख रुपये है।

राधा रानी पहनती हैं 3 करोड़ का मुकुट

कृष्ण के साथ राधा जी का भी भव्य श्रृंगार होता है। इस दिन राधा जी को एक ऐतिहासिक मुकुट पहनाया जाता है, जिसकी कीमत लगभग 3 करोड़ रुपये है। उस मुकुट में पुखराज और माणिक जड़े हैं और बीच में पन्ना लगा है। मुकुट में लगे 16 ग्राम पन्ने की कीमत करीब 16 लाख रुपये है।

इन सबके अलावा राधा जी और कृष्ण जी के लिए 15 लाख रुपये से अधिक के जेवरात हैं, जो जन्माष्टमी के दिन पहनाएं जाते हैं। इसमें दोनों के लिए झुमके, सोने की नथ, कंठी, चूड़ियां, कड़े इत्यादि हैं।

Krishna Janmashtami 2019: श्रीकृष्ण जन्मोत्सव आज, जानें शुभ मुहूर्त, व्रत एवं पूजा की संपूर्ण विधि

सुरक्षा का विशेष प्रबंध

श्रीकृष्ण और राधा रानी के जेवरात बैंक के लॉकर में सुरक्षित रखा जाता है। जन्माष्टमी के लिए ये सभी जेवरात पुलिस की सुरक्षा में मंदिर लाए जाते हैं। जन्माष्टमी के दिन भगवान का श्रृंगार होता है और जन्माष्टमी के बाद इन जेवरातों को पुलिस की निगरानी में ही लॉकर में जमा कर दिया जाता है। जन्माष्टमी के दिन मंदिर की सुरक्षा व्यवस्था काफी कड़ी की जाती है।

Posted By: kartikey.tiwari

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप