घर उसमें रहने वालों की शख्िसयत से रूबरू कराता है। ग्रेटर नोएडा की डॉ. रश्मि मिश्रा का घर सादगी से भरपूर है। इस घर के डेकोर में शालीनता, स्पेस मैनेजमेंट और कंफर्ट पर ख्ाासा ध्यान दिया गया है।

क्रिएटिव कॉर्नर

घर के एक कॉर्नर को ख्ाूबसूरत दीवान से सजाया गया है। इतिहास के झरोखे से झांकता पालकीनुमा ख्ाालिस वुडन का पारंपरिक दीवान राजसी एहसास दिलाता है। इस पर कलात्मक बेडकवर बिछाया गया है। इसे मसनद और कुशंस से सजाया गया है। दीवार पर लगी मधुबनी पेंटिंग कमरे की ख्ाूबसूरती में चार चांद लगा रही है।

किड्स रूम

अकसर बच्चों के कमरे को ब्लू या पिंक कलर से पेंट किया जाता है। लेकिन डॉ. रश्मि ने बच्चों के कमरे को सनशाइन येलो कलर से वाइब्रेंट लुक देने की कोशिश की है। रूम में बच्चों के खेलने से लेकर पढऩे की हर चीज्ा मौज्ाूद है, ताकि बच्चे अपने कमरे में पूरी तरह से एंजॉय कर सके।

ड्रॉइंग रूम

पूरे घर को सादगी और शांति के प्रतीक व्हाइट कलर से पेंट किया गया है। इस रंग के साथ अच्छी बात यह है कि फर्नीचर और अन्य एक्सेसरीज्ा के साथ एक्सपेरिमेंट्स किए जा सकते हैं। शायद इसी बात का खयाल रखते हुए इस घर के फर्नीचर्स ज्य़ादातर डार्क ब्राउन कलर के रखे गए हैं। साथ में लाइट और डार्क कलर्स के फैब्रिक्स को मिक्स एंड मैच किया गया है।

डाइनिंग एरिया

डॉ. रश्मि ने ओवल शेप के डाइनिंग टेबल को स्पेस के हिसाब से डिज्ााइन किया है, ताकि ज्य़ादा से ज्य़ादा लोग इसका इस्तेमाल कर सकें और वह महज्ा फर्नीचर बनकर न रह जाए।

पूजा घर

पूजा घर को रश्मि ने अपने गांव वाले घर में बने मंदिर जैसा रूप देने की कोशिश की है। पूजा घर को पेंट करने के लिए मंदिर के पारंपरिक रंगों का इस्तेमाल किया गया है। दीवार पर घंटियां लगाई गई हैं। मंदिर में बुज्ाुर्गों के बैठने के लिए चेयर्स की भी व्यवस्था की गई है, ताकि वे आराम से बैठकर पूजा कर सकें।

बेडरूम

पूरे घर की तरह बेडरूम को भी सिंपल और स्पेशियस लुक दिया गया है। फर्नीचर को जबरन कमरे में भरने की कोशिश नहीं की गई है। बेडरूम में रोशनी की भरपूर व्यवस्था है। यह ध्यान रखा गया है कि सुबह के सूरज की पहली किरण खिडकियों के संग भीतर प्रवेश कर सके।

किचन

किचन मॉडर्न तरीके से बनाई गई है। यहां म्यूटेड कलर्स का इस्तेमाल किया गया है। किचन में हर उस चीज्ा के लिए मॉड्यूलर कैबिनेट्स के ज्ारिये स्पेस क्रिएट किया गया है, जिसकी ज्ारूरत एक गृहिणी को किचन में पडती है।

प्रस्तुति : संगीता सिंह

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस