बिजनेस मैनेजमेंट में ग्रेजुएट अभिनेत्री टीना देसाई को बचपन से ऐक्टिंग का शौक था। यही शौक उन्हें पहले मॉडलिंग और फिर हिंदी फिल्मों में ले आया। अब तक वे चार फिल्में और लगभग 100 कमर्शियल कर चुकी हैं। सखी की एक नजर उनके करियर पर।

ना देसाई मूलत: बंगलुरू की हैं। उनके पिता गुजराती और मां तेलुगु हैं। टीना सुर्खियों में तब आई जब उन्होंने एक रिअलिटी शो कॉन्टेस्ट गेट गॉर्जियस में भाग लिया। हालांकि उन्हें जीत नहीं मिली, लेकिन इसके बाद उन्होंने बंगलुरू से मायानगरी मुंबई में बस जाने का इरादा बना लिया। मुंबई आने पर उन्हें मॉडलिंग के कई ऑफर मिले। उसके पांच साल बाद उन्होंने फिल्म यह फासले से बॉलीवुड में कदम रखा। फिर फिल्म सही धंधगलत बंदे, कॉकटेल और हॉलीवुड की मूवी द बेस्ट एग्जॉटिक मैरीगोल्ड होटल में भी काम किया।

यह फिल्म गोल्डन ग्लोब अवॉर्ड में बेस्ट मोशन पिक्चर के लिए नॉमिनेट हुई थी। लेकिन इन सभी फिल्मों में उन्हें कुछ ख्ास नोटिस नहीं किया गया। इधर पिछले साल आई बॉलीवुड ऐक्शन थ्रिलर फिल्म टेबल नं. 21 में राजीव खंडेलवाल के साथ उनके काम को काफी सराहना मिली।

बचपन से था शौक

टीना बचपन से ही ऐक्टिंग की दुनिया में आना चाहती थीं। वह बताती हैं कि जब वह आठवीं में थीं तब उन्होंने शाहरुख खान की फिल्म कोयला देखी और उसे देखने के बाद ही मन में ठान लिया था कि बडे होकर ऐक्टिंग करेंगी। वह ऐक्टिंग में तो आना चाहती थीं, लेकिन इसके लिए कोई ऐक्टिंग क्लासेज नहीं लेना चाहती थीं। इसलिए वह मॉडलिंग को ही एक्सपोजर का सही जरिया मानते हुए आगे बढती गई। जिसके चलते उनके कॉन्टैक्ट बढते गए और फिल्मों के ऑफर भी मिलने लगे। टीना का आत्मविश्वास और हुनर उन्हें बीटाउन में ही नहीं हॉलीवुड तक ले गया।

मजबूत इरादे

उनके पिता फिल्म बिजनेस में थे। टीना ने ऐक्टिंग में जाने की बात जब अपने माता-पिता से की तो उन्होंने उनका मनोबल बढाया और पूरा सपोर्ट किया। और उन्हीं के मजबूत सपोर्ट से टीना आज यहां तक पहुंची हैं। हालांकि उन्हें अभी तक कोई बडी सफलता नहीं मिली, लेकिन उन्हें एड और मॉडलिंग के ऑफर लगातार मिल रहे हैं। वह कहती हैं कि मैं कभी मॉडलिंग बंद नहीं करूंगी। ऐक्टिंग और मॉडलिंग साथ-साथ करूंगी। टीना सिंगर केके के साथ म्यूजिक विडियो भी कर चुकी हैं।

सखी प्रतिनिधि

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

budget2021