साधारण सी दिखने वाली अदरक वाकई गुणों की खान है। आयुर्वेद में भी अदरक का खूब जिक्र है। अब तक आपने महज सर्दी-जुकाम में अदरक के कारगर होने की बात सुनी होगी, लेकिन नए वैज्ञानिक शोध के मुताबिक अदरक मधुमेह की समस्या में भी कारगर साबित होती है। इसके अलावा इसमें पाए जाने वाले एंटी कैंसर तत्व कैंसर के खतरे भी कम करते हैं। आइए सखी के साथ जानें, अदरक के कुछ और अनोखे गुणों के बारे में।

1. हाल ही में हुए एक शोध के मुताबिक अदरक डायबिटीज में लाभदायक होती है। यूनिवर्सिटी ऑफ सिडनी में फार्मास्यूटिकल केमिस्ट्री के प्रोफेसर बासिल रौफोगालिस की प्लांटा मेडिका में प्रकाशित एक रिपोर्ट के मुताबिक अदरक का रस रक्त में शर्करा के स्तर को नियंत्रित करता है। प्रो रौफोगालिस के अनुसार मरीज में डायबिटीज का रोग पुराना होने पर कई तरह की परेशानियां पैदा होती हैं। हमारे शरीर के प्रमुख अंग भी प्रभावित होते हैं। ऐसे में अदरक का रस ऐसे रोगियों के लिए बेहद उपयोगी साबित होता है। अदरक का मुख्य जिंजर रोल्स रक्त में शर्करा के स्तर को नियंत्रित करता है।

2. सर्दी और पेट की बीमारियां दूर करने में अदरक का उपयोग आम है, लेकिन एक अन्य नए शोध के मुताबिक अदरक का रोजाना उपयोग व्यायाम से मांसपेशियों में होने वाले दर्द को भी कम करता है। शोध में पाया गया कि कच्चा अदरक खाने वाले लोगों में दर्द 25 फीसद कम रहा। इसके अलावा ताजा अदरक पीस कर दर्द वाले जोडों और मसल्स पर लेप करने से सूजन और दर्द में आराम मिलता है। लेप अगर गर्म करके लगाया जाए तो असर जल्दी होता है।

3. गाउट और पुराने गठिया रोग में अदरक बहुत फायदेमंद साबित होता है। 5 ग्राम अदरक और आधा चम्मच अरंडी का तेल लेकर दो कप पानी में उबालें। इतना उबालें कि यह आधा रह जाए। इसे ठंडा करके रख लें। प्रतिदिन रात में इसका सेवन किया जाए तो तकलीफ में धीरे-धीरे आराम मिलना शुरू हो जाएगा।

4. अदरक पर्याप्त पोषक तत्व पाए जाते हैं। इसमें प्रोटीन, खनिज, कार्बोहाइड्रेट और फाइबर होते हैं। ये स्मरण शक्ति दुरुस्त रखने में भी कारगर होती है। यह डाइजेस्टिव टॉनिक का भी काम करता है। लेकिन गर्मियों में इसका इस्तेमाल बहुत नहीं करना चाहिए, क्योंकि इसकी तासीर गर्म होती है।

5. अदरक की चाय जुकाम, खांसी, कफ, सिरदर्द, कमर दर्द, पसली और छाती की पीडा दूर करती है।

6. यह बडी आंत में पाए जाने वाले बैक्टीरिया का बढना रोक देता है, जिससे गैस से राहत मिलती है।

7. अदरक में एंटी ऑक्सीडेंट पर्याप्त मात्रा में होते हैं। इसके सेवन से कैंसर के बचाव में सहायक एंजाइम सक्रिय हो जाते हैं। अदरक का पाउडर सेवन करने से ओवरीज के कैंसर का खतरा कम हो जाता है।

8. अदरक त्वचा को आकर्षक व चमकदार बनाने में भी मदद करता है। सुबह खाली पेट एक ग्लास गुनगुने पानी के साथ अदरक का एक टुकडा खाने से त्वचा में निखार आता है।

9. माइग्रेन की समस्या में एक नीबू के रस में आधा चम्मच अदरक का रस मिलाकर लेने से लाभ मिलता है।

10. खांसी के साथ कफ की भी शिकायत है तो रात में सोते समय दूध में अदरक डालकर उबालकर पिएं। ऐसा पंद्रह दिनों तक नियमित रूप से करने से जमा कफ आसानी से बाहर निकल जाएगा।

ध्यान रखें

- एक दिन में 5 से 10 ग्राम से अधिक अदरक का सेवन नहीं करना चाहिए।

- जिन लोगों को गर्मी में गर्म प्रकृति का भोजन नहीं पचता हो, उन्हें अदरक का सेवन नहीं करना चाहिए।

- किसी भी चीज की अति ठीक नहीं होती, इस बात का ध्यान रखें।