राज्य ब्यूरो, जयपुर। Rajasthan BJP. राजस्थान में निकाय चुनाव समाप्त होने के बाद अब प्रदेश भाजपा की नई कार्यकारिणी का इंतजार शुरू हो गया है। कार्यकर्ताओं और नेताओं ने नई कार्यकारिणी में जगह पाने के लिए दौड़-भाग शुरू कर दी है। बताया जा रहा है कि दिसंबर में संगठन चुनाव में औपचारिक रूप से अध्यक्ष निर्वाचित होने के बाद प्रदेश अध्यक्ष सतीश पूनिया नई कार्यकारिणी घोषित करेंगे। राजस्थान में प्रदेश भाजपा की मौजूदा कार्यकारिणी में लंबे समय से बदलाव नहीं हुआ है। यह कार्यकारिणी पूर्व प्रदेश अध्यक्ष अशोक परनामी के समय से चल रही है।

पिछले साल विधानसभा चुनाव से पहले मदनलाल सैनी को अध्यक्ष बनाया गया था, लेकिन उन्होंने भी चुनाव के चलते कार्यकारिणी में कोई बड़ा बदलाव नहीं किया था। विधानसभा चुनाव में पार्टी हार गई और इसी बीच सैनी का निधन हो गया। उनके निधन के दो-ढाई माह बाद इसी साल सितंबर में सतीश पूनिया को यहां प्रदेशाध्यक्ष बनाया गया। पूनिया ने भी अभी तक अपनी नई टीम का गठन नहीं किया है। इस बारे में उन्होंने मीडिया से चर्चा में कहा कि निकाय चुनाव के बाद ही इस बारे में विचार किया जाएगा और ऐसी टीम बनाई जाएगी जो अगले विधानसभा चुनाव तक पुख्ता ढंग से काम करे। अब विधानसभा की दो सीटों का उपचुनाव और निकाय चुनाव दोनों ही हो चुके हैं, ऐसे में कार्यकर्ताओं को उनकी टीम का इंतजार है।

पार्टी सूत्रों का कहना है कि संगठन चुनाव की प्रक्रिया चल रही है जो दिसंबर के पहले पखवाड़े में पूरी होगी। संगठन चुनाव की प्रक्रिया में पूनिया को औपचारिक तौर पर प्रदेश अध्यक्ष चुना जाएगा और इसके बाद ही वे अपनी टीम घोषित करेंगे। हालांकि इसके लिए फीडबैक और तैयारियां चल रही हैं। उपचुनाव और निकाय चुनाव में कार्यकर्ताओं और नेताओं की सक्रियता के बारे में जिला स्तर से फीडबैक लिया जा रहा है। बताया जा रहा है कि इस सक्रियता को नई टीम में शामिल होने के प्रमुख आधारों में से एक माना जाएगा। कार्यकारिणी के साथ ही सभी मोर्चो और प्रकोष्ठों में भी नए सिरे से नियुक्तियां होने की चर्चा है।

राजस्थान की अन्य खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस