अजमेर, जेएनएन। प्रदेश भाजपा के अध्यक्ष सतीश पूनिया ने कहा कि चार और पांच दिसंबर को प्रदेश कार्यसमिति की बैठक जयपुर में होगी। इस दो दिवसीय बैठक का समापन केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह के संबोधन के साथ होगा। इस अवसर पर प्रदेश में भाजपा के जनप्रतिनिधियों का एक सम्मेलन भी रखा गया है। इसमें सरपंच-पार्षद से लेकर भाजपा के सांसद तक भाग लेंगे। सम्मेलन में 10 हजार जनप्रतिनिधियों के शामिल होने की उम्मीद है। इससे पहले सांगानेर एयरपोर्ट से आगरा रोड स्थित कार्यसमिति स्थल तक अमित शाह का रोड शो निकाला जाएगा।

प्रदेश भाजपा अध्यक्ष पूनिया गुरुवार को अजमेर में मीडिया से बात कर रहे थे। उन्होंने कहा कि अमित शाह के आगमन से प्रदेश में भाजपा को और मजबूती मिलेगी। कार्यसमिति की बैठक में कांग्रेस की सरकार के खिलाफ बड़ा प्रदर्शन करने की योजना भी बनाई जाएगी। पूर्व मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे की धार्मिक यात्रा के संबंध में पूनिया ने कहा कि राजे भाजपा की वरिष्ठ नेता हैं और उन्होंने स्वयं कहा कि यह यात्रा उनकी निजी यात्रा है।

गौरतलब है कि पूर्व सीएम वसुंधरा राजे 23 नवंबर से धार्मिक यात्रा पर हैं, इस यात्रा का समापन 26 नवंबर को अजमेर- पुष्कर में होगा। राजे की यात्रा को लेकर न सिर्फ विपक्षी कांग्रेसजन अपितु भाजपा के ही समर्थक टीका टिप्पणी करने से बाज नहीं आ रहे। श्रीमती वसुंधरा राजे जहां एक और इस यात्रा को धार्मिक बता रही हैं तो दूसरी और भाजपा प्रदेशाध्यक्ष पूनिया इसे निजी वहीं स्वयं राजे यात्रा के दौरान जनता और कार्यकर्ता को संबोधित करते हुए राजनीतिक हुए बिना नहीं रह पा रही।

उन्होंने चित्तौड़ के बेगू में एक जनसभा को संबोधित करते हुए कहा कि हाल में प्रदेश में दो उपचुनावों में भाजपा की हार की वजह से भाजपा का कार्यकर्ता हताश हैं, लेकिन अब कार्यकर्ताओं को हताश होने की जरूरत नहीं है। क्योंकि दो वर्ष बाद राजस्थान में फिर से कमल खिलने वाला है। कार्यकर्ताओं के सामने जो अंधेरा है वह हट जाएगा। कार्यकर्ताओं की बदौलत ही भाजपा दो सांसदों से बढ़कर 303 सांसदों तक पहुंची है।

यहां आपको बता दे कि इन दिनों जबकि पूर्व सीएम और भाजपा की राष्ट्रीय उपाध्यक्ष वसुंधरा राजे 26 नवंबर को अजमेर आएंगी। इससे पहले 24 व 25 नवंबर को अजमेर में भाजपा की चिंतन बैठक हुई। शहर भाजपा की इस बैठक में भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष सतीश पूनिया भी पहुंचे हैं। इस बैठक में पार्टी की भविष्य की रणनीति पर विचार विमर्श हुआ। इसके साथ ही केंद्र सरकार की उपलब्धियों को जन जन तक पहुंचाने के लिए भी योजना बनाई गई। शहर जिला अध्यक्ष डॉ प्रियशील हाड़ा ने बताया कि जिला स्तरीय चिंतन बैठक का कार्यक्रम पहले ही तय हो गया था। तय कार्यक्रम के अनुसार ही 24 व 25 नवंबर को बैठक हुई है।

 

Edited By: Priti Jha