उदयपुर, संवाद सूत्र। Tahsildar Arrested:  भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो (एसीबी) राजसमंद की टीम ने शुक्रवार को मकान निर्माण रोकने के बाद निर्माण की दोबारा से मंजूरी देने के मामले में बीस हजार रुपये की रिश्वत लेते तहसीलदार सहित तीन जनों को गिरफ्तार किया है। इनमें पटवारी तथा तहसीलदार के लिए दलाली करने वाला व्यक्ति शामिल है। ब्यूरो के अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक राजेश चौधरी ने बताया कि पकड़े गए आरोपितों में गढ़बोर तहसीलदार पर्वत सिंह पुत्र लख सिंह शामिल है। तहसीलदार पर्वत सिंह जोधपुर जिले के शेरगढ़ तहसील के रैना गांव का रहने वाला है। इसके साथ गढ़बोर के पटवारी बगरू जयपुर निवासी शिवराम पुत्र मोहनलाल शर्मा तथा तहसीलदार पर्वत सिंह के लिए दलाली करने वाले मोराणा-गढ़बोर निवासी नंदकिशोर पालीवाल पुत्र भंवरलाल को गिरफ्तार किया है।

इनके खिलाफ भोपजी की भागल निवासी रोशनलाल पुत्र उमालाल गुर्जर ने भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो की राजसमंद ऑफिस में शिकायत की थी। जिसमें बताया कि वह अपने गांव में मकान का निर्माण करा रहा था। उस निर्माण को लेकर आपत्ति जताते हुए तहसीलदार ने काम रूकवा दिया तथा मकान पर ताला लगा दिया। पुन: निर्माण कार्य की अनुमति तथा मकान पर लगाए ताले की चाबी लेने के लिए उसने तहसीलदार से संपर्क किया। जिस पर तहसीलदार की ओर से पटवारी शिवराम शर्मा ने पच्चीस हजार रुपये की रिश्वत की मांग की। बाद में वह बीस हजार रुपये लेने पर सहमत हो गए।

उन्होंने शुक्रवार शाम रोशनलाल को बीस हजार रुपये लेकर तहसील ऑफिस बुलाया। जहां तहसीलदार के कहने पर उसके दलाल नंदकिशोर ने रिश्वत के बीस हजार रुपये ले लिए। ब्यूरो टीम ने नंदकिशोर को गिरफ्तार कर लिया तथा पूछताछ में उसने स्वीकार किया कि उसने तहसीलदार तथा पटवारी के कहने पर रिश्वत राशि ली। इससे पहले भी वह उन दोनों के लिए रिश्वत की राशि लेता रहा है। ब्यूरो ने तीनों को गिरफ्तार करने के बाद उनके खिलाफ प्राथमिकी दर्ज कर ली है। 

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

budget2021