जैसलमेर, प्रेट्र। Rajasthan: पत्नी और 13 माह के बेटे की गला रेतकर हत्या करने के बाद एक शिक्षक ने खुद भी फांसी लगा ली। घटना राजस्थान में जयपुर के जगतपुरा इलाके की है। पुलिस मामले की जांच कर रही है। लाजपत नगर में यह घटना गुरुवार रात को उस समय हुई, जब गिर्राज मीणा (33) की अपनी पत्नी समिता (30) के साथ किसी बात पर बहस हो गई। गुस्से में गिर्राज ने अपनी पत्नी और बेटे श्रीराम मीणा का गला काट दिया और फिर खुद भी फांसी लगा ली। शुक्रवार को यह जानकारी प्रताप नगर पुलिस स्टेशन के एसएचओ श्रीमोहन मीणा ने दी। उनके मुताबिक, दोनों पति और पत्नी केंद्रीय विद्यालय में शिक्षक थे। पुलिस ने बताया कि गिर्राज बूंदी में तैनात था। समीता जयपुर में काम कर रही थी और वे किराए के मकान में रह रहे थे। एसएचओ ने कहा कि पोस्टमार्टम के बाद शव परिजनों को सौंप दिए गए हैं।

गौरतलब है कि इससे पहले करौली जिले के हिंडौन में गत दिनों महिला सरपंच के पति की दो लोगों ने गोली मारकर हत्या कर दी। सरपंच पति पप्पू जाट को गोली मारने वाले उसी के दो पूर्व परिचित तोताराम व घनश्याम है। दोनों के खिलाफ पुलिस ने मामला दर्ज कर तलाशी शुरू कर दी, वे फिलहाल फरार हैं। आरोपितों ने 6 फायर किए,जिनमें से 5 गोली मृतक की पीठ और एक सिर पर लगी। इससे मौके पर ही उसकी मौत हो गई। यह वारदात गांव के सरकारी स्कूल के पास सुबह करीब 6 बजे की है। मृतक और दोनों आरोपित सुबह ही शराब पी रहे थे। इसी दौरान उनमें विवाद हो गया। इसके बाद दोनों ने उस पर फायर कर दिए, जिससे उसकी हत्या हो गई। मृतक के परिजनों ने हिंडौन पुलिस थाने रिपोर्ट दर्ज कराई की आरोपित वारदात को अंजाम देने के बाद पप्पू जाट की बोलेरो गाड़ी व सोने की चेन लेकर फरार हो गए।

फायरिंग की आवाज सुनकर लोग मौके पर पहुंचे और उन्होंने आरेापितों को फरार होते हुए देखा। लोगों ने परिजनों को सूचना दी। पुलिस के अनुसार सोमवार रात तीनों एक विवाह में शामिल होने गए थे। विवाह में शामिल होने के बाद मंगलवार सुबह गांव में आकर शराब पीने लगे और इसी दौरान उनके बीच विवाद हो गया। पुलिस ने मौके से खाली कारतूस बरामद किए। पोस्टमार्टम के बाद शव परिजनों को सौंप दिया गया। प्रारंभिक जानकारी के अनुसार मृतक की पत्नी जब से गांव की सरपंच बनी तब से दोनों का इस परिवार के साथ विवाद होता रहता था।