जोधपुर, संवादसूत्र । जोधपुर के निकटवर्ती झंवर स्थित धवा गांव में परिहारों की ढाणी में बुधवार की देर रात पिता और दो मासूम बच्चों की संदिग्ध हालात में मौत पर पुलिस ने तीनों शवों का मेडिकल बोर्ड से पोस्टमार्टम करवाया। प्रथम दृष्टया मामला हत्या के बाद आत्महत्या किए जाने का लगा है। एक बच्चे का रस्सी से गला घोंटने और दूसरे का मुंह दबाने की आशंका जताई जाती है। मौत की वजह पोस्टमार्टम रिपोर्ट से ही साफ हो पाएगी।

पुलिस ने मौके पर पहुंच फिर से साक्ष्य जुटाने के साथ एफएसएल टीम के साथ एमओबी टीम को भी बुलाया। बच्चों के बड़े पिता की तरफ से रिपोर्ट पुलिस में दी गई है। बड़े पिता ने किसी पर कोई शक सुबह जाहिर नहीं किया है।  शवों का मेडिकल बोर्ड से पोस्टमार्टम करवाने के बाद परिजन को सौंप दिए गए। मृतक के पत्नी अभी बदहवाश स्थिति में है। इस लिए पुलिस उससे ज्यादा कुछ पूछताछनहीं कर पाई।

झंवर थानाधिकारी मनोज कुमार ने बताया कि धवा गांव में परिहारों की ढाणी आई है। बुधवार की रात को यहां पर रहने वाले रूपाराम पटेल के अपने घर में दो बच्चों की संदिग्ध हालात में मौत और खुद के फंदा लगाने की जानकारी मिलने पर पुलिस वहां पहुंची। आरंभिक पड़ताल में सामने आया कि रूपाराम की पत्नी खेत पर गई हुई थी। शाम को वह खेत से लौटी तब उसके दो बच्चें दस साल का रामाराम एवं आठ साल का कृष्णा अचेतावस्था में खाट पर पडे मिले। उनके मुंह से खून रिस रहा था। तब वह चिल्लाते हुए बाहर आई आस पास के लोगों की मदद से दोनों बच्चों को तत्काल एम्स अस्पताल ले जाया गया।

मालूम हो कि डॉक्टर ने बच्चों के पिता के बारे में पूछा तो घरवाले उसकी तलाश में लगे। बाद में पता लगा कि रूपाराम का शव पशुओं के बाडे में छपरे में फंदे पर लटका मिला। तब उसे भी फंदे से उतारा गया।

थानाधिकारी मनोज कुमार ने बताया कि शवों का मेडिकल बोर्ड से पोस्टमार्टम करवाया गया है। प्रथम दृष्टया बच्चों की हत्या के बाद पिता द्वारा फंदा लगाने की संभावना ज्यादा है। बच्चों की मौत की वजह पोस्टमार्टम रिपोर्ट से ही साफ हो पाएगी। एक का रस्सी और दूसरे का मुंह दबाकर मारने की आशंका बनी है।

एक बच्चें मुंह से खून के साथ झाग निकल रहे थे।

जानकारी के अनुसार घटना में अब मृतक रूपाराम पटेल के बडे भाई कोजाराम की तरफ से मर्ग की रिपोर्ट दी गई है। किसी बाहरी व्यक्ति द्वारा हत्या किए जाने की आशंका नहीं है। कोई शक सुबह जाहिर नहीं किया गया है। 

Edited By: PRITI JHA