जयपुर, नरेन्द्र शर्मा। कांग्रेस ने मंत्रिमंडल से बाहर रखे गए कांग्रेस के दिग्गज नेताओं को आगामी लोकसभा चुनाव लड़ाने की रणनीति बनाई है। इन नेताओं को लोकसभा चुनाव की तैयारियों में जुटने के संकेत भी दिए गए हैं। वहीं, मंत्रीपद नहीं मिलने से नाराज नेताओं के समर्थकों को शांत करने के लिए मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने पहल की है। गहलोत ने मंगलवार को जाहिदा खान, हेमाराम चौधरी और राजेन्द्र पारीक से बात की है। जाहिदा के समर्थकों ने कांमा में जबरदस्त हंगामा किया था, वहीं हेमाराम चौधरी को मंत्री नहीं बनाने पर मारवाड़ के जाट समाज ने नाराजगी जताई थी। हालांकि मारवाड़ से हरीश चौधरी को मंत्री बनाकर जाट समाज को प्रतिनिधित्व दिया गया है।

इन दिग्गजों को नहीं मिली सरकार में जगह

पूर्व केंद्रीय मंत्री डॉ. सीपी जोशी, पूर्व विधानसभा अध्यक्ष दीपेन्द्र सिंह शेखावत, राज्य सरकार के पूर्व मंत्री भरत सिंह, पूर्व सांसद नरेन्द्र बुड़ानिया, राजेन्द्र पारीक, जाहिदा खान, महेन्द्र मालवीय, भंवरलाल शर्मा, राजकुमार शर्मा और बृजेन्द्र ओला को मंत्री नहीं बनाया गया है। कांग्रेस के एक राष्ट्रीय पदाधिकारी ने बताया कि कांग्रेस की रणनीति है कि महेन्द्र मालवीय को बांसवाड़ा-डूंगरपुर संसदीय क्षेत्र से चुनाव लड़ाया जाए। इसी तरह भरत सिंह को झालावाड़-बांरा और नरेन्द्र बुड़ानिया को चुरू से लोकसभा चुनाव लड़ाने की योजना है। महिला कांग्रेस की पूर्व अध्यक्ष शकुंतला रावत को भी मंत्रिमंडल में शामिल नहीं दिए जाने के पीछे कारण लोकसभा चुनाव लड़वाना माना जा रहा है। कांग्रेस रावत को जयपुर ग्रामीण लोकसभा क्षेत्र से मैदान में उतार सकती है।

उधर, मंत्री नहीं बनाने से नाराज चल रहे कांग्रेस के वरिष्ठ विधायक राजेन्द्र पारीक, हेमाराम चौधरी और जाहिदा खान से सीएम ने बात की है। उन्हें अपने समर्थकों को शांत करने के लिए कहा गया है। उल्लेखनीय है कि गहलोत मंत्रिमंडल में इस बार वरिष्ठ विधायकों को बाहर रखा गया है। इससे उनमें नाराजगी भी है। उनकी यह नाराजगी शपथ ग्रहण समारोह से उनके द्वारा बनाई दूरी से भी नजर आई।

सचिन पायलट ने कहा, सभी को मिलेगी जगह

उप मुख्यमंत्री और पीसीसी अध्यक्ष सचिन पायलट ने कहा कि मंत्रिमंडल गठन में सभी संभागों को प्रतिनिधित्व मिला है। अगला विस्तार भी जल्द ही होगा, जिन लोगों को अब मंत्री नहीं बनाया जा सका, उन्हें आगे मौका मिलेगा। राजनीतिक नियुक्तियों में भी नेताओं को मौका मिलेगा। उन्होंने कहा कि लोकसभा चुनाव होने वाले हैं, उसी के अनुसार निर्णय होंगे। उन्होंने कहा कि जिन लोगों ने पार्टी को जीत दिलाने के लिए मेहनत की है, उनका पूरा ध्यान रखा जाएगा।

Posted By: Sachin Mishra

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस