उदयपुर, सुभाष शर्मा। मशहूर कॉमेडियन कृष्णा अभिषेक ने कहा कि एक्टिंग की दुनिया में नाम कमाने की चाहत रखने वाला वहीं स्ट्रगलर सफल होता है जिसमें डू और डाई की स्पिरिट होती है। मेरी पहली फिल्म फ्लॉप हो गई व उसके बाद मैंने भोजपुरी, गुजराती सहित कई भाषाओं के सिनेमा में छोटे-मोटे रोल किए। लगातार काम करता गया तो सफलता भी पीछे-पीछे आती चली गई। कृष्णा हिस्ट्री टीवी-18 के पॉपुलर शो ‘ओएमजी-ये मेरा इंडिया’ के सीजन-6 की शूटिंग के सिलसिले में उदयपुर में हैं।

इसी दौरान हुई विशेष बातचीत में कृष्णा ने कहा कि कलाकार में मनोज वाजपयी और नवाजुद्दीन सिद्दिकी जैसी स्पिरिट होनी चाहिए। जिनके अंदर इस तरह की जिद है कि भले सडक़ पर सो लुंगा मगर मरूंगा तो मुंबई में ही।

कृष्णा ने कहा कि मैं गोविंदा के भान्जे के तौर पर काम मांगता तो डेविड धवन से लॉन्च हो गया होता। उनके नाम का फायदा यह है कि जहां भी जाता हूं, इस परिचय पर चाय के साथ दो बिस्किट अवश्य मिल जाते हैं। किन्तु जब काम दिखाने की बारी आती है तब खुद का टैलेंट ही काम करता है। थोड़ा सा नुकसान कहूं तो यह है कि लोगों में थोड़ा सा लो परसेप्शन बन जाता है कि गोविंदा का भान्जा है, करेगा तो अच्छा ही। उन्होंने अभिषेक बच्चन का उदाहरण देते हुए कहा कि उनके जैसा कोई एक्टर नहीं है। उनकी गुरु, दोस्ताना देखिये, क्या लाजवाब काम किया है। मगर कई बार कंपेयर अमितजी से हो जाते हैं।

कृष्णा ने बताया कि ओएमजी के छठे सीजन के बारे में बताया कि हमारी रिसर्च टीम बहुत मेहनत करती है। हर बार कुछ ऐसी नई स्टोरीज सामने आती है कि मैं खुद दांतों तले उंगलियां दबा लेता हूं। सच कहूं तो रोमांचक कहानियों का पहला पाठक और श्रोता मैं ही होता हूं। इसकी जो शॉकिंग वैल्यू है वही शो की यूएसपी है। इसके दस एपिसोड हैं जिसमें से चार कहानियां खास तौर पर उदयपुर की हैं। इस शो में हम एक विंटेज कार ड्राइवर को दिखाने जा रहे हैं जो 90 साल से गाड़ी चला रहा है। उनकी उम्र 105 साल से ऊपर है।

ओएमजी का हर सीजन इतना हिट है कि यह 17 भाषाओं में डब होती है। जब मैं कोलम्बो गया था तब मुझे लोग मिले जिन्होंने मुझे पहचान लिया और कॉम्प्लीमेंट कर दिया। कपिल के शो और इस शो में अंतर यह है कि कपिल के शो में मैं इन दिनों सपना का किरदार कर रहा हूं। आई मीन कर रही हूं। इसमें सपना की मसाज का लोगों का इंतजार रहता है। उसका डायलॉग एक करोड़ उधार दो..बहुत पॉपुलर है। जबकि ओएमजी में अपना काम, अपनी स्टोरी, अपना एडवेंचर है।

कॉमेडी सर्कस शो तक को दस साल हो गए हैं। यह अब भी नंबर वन है टीआरपी में। राजस्थान से जुड़ाव पर उन्होंने कहा कि जिंदगी का पहला शो जयपुर में किया जब 11 हजार मिले। वह हमेशा याद रहेगा। जिंदगी का दूसरा शो भी जयपुर में ही किया। बोल बच्चन भी राजस्थान में ही शूट की। अभिषेक बच्चन के साथ राजस्थान में कैर, सांगरी, गट््टे की सब्जी आदि खाना अभी भी याद है। मुझे उदयपुर का लाल मीट पसंद है। वैसे अगर मैं एक्टर नहीं बनता तो शैफ जरूर बनता।

Posted By: Preeti jha

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप