जयपुर, नरेन्द्र शर्मा। पंजाब के बाद अब कांग्रेस आलाकमान राजस्थान के विवाद का निस्तारण करने की तैयारी में है। इस सिलसिले में कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी की मुख्यमंत्री अशोक गहलोत से टेलीफोन पर बात होने की जानकारी मिली है। पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने राज्य के पूर्व उप मुख्यमंत्री सचिन पायलट से बात की है। राहुल गांधी से साथ पायलट की करीब दो घंटे तक मुलाकात हुई है। बगावत के बाद डेढ़ साल में पायलट की राहुल गांधी से यह पहली मुलाकात हुई है। पायलट की कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा से भी बात हुई है। संगठन महासचिव केसी वेणुगोपाल और प्रदेश प्रभारी गहलोत व पायलट दोनों के संपर्क में है। सोमवार को भी वेणुगोपाल की पायलट से बात हुई है।

एक राष्ट्रीय पदाधिकारी ने बताया कि राहुल गांधी और पायलट के बीच तीन मुद्दों पर बातचीत हुई। इनमें एक तो खुद पायलट की भूमिका को लेकर, दूसरा राज्य मंत्रिमंडल में फेरबदल और तीसरा संगठन में बदलाव को लेकर।राज्य में पिछले डेढ़ साल से पार्टी का नीचले स्तर तक संगठन में पदाधिकारी नहीं है। पायलट खेमे की बगावत के समय ब्लाक और जिला कांग्रेस कमेटियां भंग कर दी गई थी। उसके बाद से अब तक इनका गठन नहीं हो सका है। गहलोत और पायलट के बीच चल रही खींचतान के कारण माकन संगठनात्मक नियुक्तियों का काम पूरा नहीं कर सके हैं। उन्होंने दोनों नेताओं के बीच सहमति बनाने को लेकर कई बार प्रयास किए,लेकिन सफल नहीं हो सक ।

बदलाव का रोडमैप तैयार

सूत्रों के अनुसार आलाकमान ने राज्य सत्ता व संगठन में बड़े बदलाव का पूरा रोड़मैप तैयार कर लिया है। बदलाव पूरी तरह से आलाकमान के स्तर पर होगा। हटाए जाने और नए बनने वाले मंत्रियों के नाम आलाकमान तय करेगा। इसी तरह जिला कांग्रेस कमेटियों में अध्यक्षों के नामों का चयन भी माकन करेंगे। इस संबंध में उन्होंने जिलावार विधायकों व वरिष्ठ नेताओं से फीड़बैक लिया है। बदलाव करने को लेकर दो सप्ताह पहले पूरी तैयारी कर ली गई थी, लेकिन गहलोत के अचानक अश्वस्थ होने के कारण इसे टाल दिया गया। अब गहलोत स्वस्थ हो गए हैं। सोमवार को उन्होंने एक बैठक भी ली है। सूत्रों के अनुसार पिछले पौने तीन साल से खाली विधानसभा उपाध्यक्ष का पद भरने को लेकर भी आलाकमान के स्तर पर चर्चा हुई है। पायलट पिछले पांच दिन से दिल्ली में है। वह अपने समर्थक विधायकों को सत्ता व संगठन में भागीदारी दिलाने की कोशिश में जुटे हैं। वहीं, गहलोत समर्थक कुछ विधायकों के सोमवार को दिल्ली पहुंचने की जानकारी सामने आई है।

Edited By: Sachin Kumar Mishra