जयपुर, जागरण संवाददाता। पाकिस्तान सीमा से सटे राजस्थान के इलाकों में पाकिस्तानी रेंजर्स व आईएसआई के एजेंटों द्वारा ग्रामीणों से सेटेलाइट कॉल के माध्यम से संपर्क साधने का प्रयास करने की बात सामने आई है। वे फर्जी सैन्य अधिकारी बनकर ग्रामीणों से सेटेलाइट फोन से भारतीय सेना व बीएसएफ के मूवमेंट और अन्य सुरक्षा संबंधित गुप्त जानकारियां लेने का प्रयास कर रहे हैं। प्रदेश के श्रीगंगानगर जिले में इस तरह के कॉल आने की बात ग्रामीणों ने सुरक्षा एजेंसियों को बताई है।

बीएसएफ व पुलिस के अधिकारी इस बारे में अधिकारिक रूप से बोलने को तैयार नहीं है, लेकिन सुरक्षा पहले से अधिक बढ़ाने के साथ ही जैमर की संख्या में बढ़ोतरी की जा रही है। बीएसएफ व पुलिस के अफसरों ने आमजन से अपील की है कि वे इस तरह की कॉल्स को न तो रिसीव करें और न ही कोई जानकारी साझा करें। इस तरह की कॉल आने के बाद अपने नजदीकी पुलिस थाने और उपखंड अधिकारी को सूचना दें।

जानकारी के अनुसार श्रीगंगानगर जिले के लालगढ़ जाटान, सिहागावाली सहित आसपास के क्षेत्रों में कुछ सेटेलाइट कॉल ट्रेस किए गए हैं जो पाकिस्तान से किए जा रहे हैं। सीमा पार पाकिस्तान से आए ये सेटेलाइट फोन कॉल पाक रेंजर्स के द्वारा किए जा रहे हैं। वे भारतीय सेना,बीएसएफ के जवानों में मूवमेंट के साथ ही सुरक्षा संबंधी जानकारी हासिल करना चाहते हैं।

उल्लेखनीय है कि श्रीगंगानगर जिले में 3 सैनिक छावनी, वायुसेना का एयरपोर्ट और आयुध भंडार मौजूद हैं। पूर्व में भी यहां पाकिस्तानी एजेंट पकड़े जा चुके हैं। सैन्य सूत्रों के अनुसार पूर्व में सीमा पार पाकिस्तान से सोशल मीडिया के जरिए ही व्हाट्सएप कॉल, फेसबुक कॉल या अन्य सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर ही यहां के लोगों से संपर्क साधा जाता था। लेकिन अब सेटेलाइट कॉल के जरिए सीमा पार से जानकारी जुटाने का प्रयास किया जा रहा है। 

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

budget2021