जागरण संवाददाता, जयपुर। Misbehavior in Rajasthan. राजस्थान सरकार के सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता मंत्री भंवर लाल मेघवाल का कहना है कि दुष्कर्मियों को सरेआम फांसी दी जानी चाहिए। उन्होंने कहा कि कोर्ट को चाहिए कि दुष्कर्म से जुड़े मामले में तीन माह में फैसला कर आरोपितों को सजा दिलाए। मेघवाल ने कहा कि विदेशों में दुष्कर्मी को सरेआम फांसी देने और गुप्तांग काटने का प्रावधान है।

दुष्कर्म की बढ़ती घटनाओं के लिए टीवी, इंटरनेट और मोबाइल को जिम्मेदार बताते हुए मेघवाल ने कहा कि जब से ये चीजें आई हैं, तब से दुष्कर्म की घटनाएं बढ़ी हैं। अब युवा इंटरनेट, टीवी और मोबाइल देखकर गलत प्रवृति की तरफ बढ़ रहे हैं। गुरुवार को प्रदेश कांग्रेस मुख्यालय में जनसुनवाई के बाद मीडिया से बात करते हुए मेघवाल ने कहा कि दुष्कर्म जैसे अपराधों के लिए कठोर से कठोर सजा दी जानी चाहिए। उन्होंने कहा कि वे अपने विभाग में महिलाओं के संरक्षण को लेकर पूरी तरह से सजग है।

उधर, भाजपा के वरिष्ठ नेता एवं पूर्व मंत्री मदन दिलावर ने दुष्कर्म की बढ़ती घटनाओं के लिए कांग्रेस को जिम्मेदार बताते हुए कहा कि कांग्रेस को वोट देने वाले दुष्कर्मी, बदमाश और समाजकंटक हैं। अपने विवादित बयानों के लिए हमेशा चर्चा में रहने वाले दिलावर ने कहा कि कांग्रेस हमेशा दुष्कर्मियों को संरक्षण देती है। दिलावर यहीं नहीं रुके, उन्होंने यह भी कहा कि प्रदेश के अच्छे लोगों ने भाजपा को वोट दिया है। कांग्रेस को जिन्होंने वोट दिया है, वह दुष्कर्मी हैं, बदमाश और समाजकंटक है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस दुष्कर्मियों को संरक्षण देती है, इस कारण से आरोपित बच जाते हैं। दिलावर ने कोटा के जेडीबी कॉलेज के बाहर गुरुवार को आयोजित एक कार्यक्रम में अशोक गहलोत सरकार पर बेटियों पर ध्यान नहीं देने का आरोप लगाया। 

दुष्कर्म मामले में मंत्री बोले, इंटरनेट और मोबाइल से बिगड़ रहे बच्चे

राज्य के ऊर्जा एवं जल संसाधन मंत्री डॉ. बीडी कल्ला ने सोमवार को मीडिया से बात करते हुए कहा था कि मोबाइल और इंटरनेट पर गलत सामग्री देखकर बच्चे बिगड़ रहे हैं। उन्होंने लोगों से बच्चों को मोबाइल और इंटरनेट से दूर रखने की अपील की है। उन्होंने कहा कि बच्चों के बिगड़ने का कारण संस्कारों की कमी भी है। कल्ला ने केंद्र सरकार से इंटरनेट पर गलत सामग्री पर रोक लगाने की मांग की है।

यह भी पढ़ेंः जयपुर में होटल कर्मचारी ने युवती से किया दुष्कर्म

 

Posted By: Sachin Mishra

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस