जयपुर, जेएनएन। राजस्थान की पहली महिला मुख्यमंत्री रह चुकीं वसुंधरा राजे सिंधिया का जन्म 8 मार्च 1953 को मुंबई में हुआ था। आज महिला दिवस के दिन राजस्थान की पूर्व मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे का जन्म दिन है।हालांकि पुलवामा हमले की घटना के बाद देश में उपजे हालात को देखते हुए वसुंधरा राजे जन्मदिन नहीं मनाएंगी। शहीद सैनिकों के परिवार व वीरांगनाओं के घर जाकर उनका सम्मान करेंगी। वहीं, पार्टी कार्यकर्ता और नेता इस मौके पर जरुरतमंदों की मदद करेंगे। इस दौरान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी समेत भाजपा के कई बड़े नेताओं ने ट्वीट कर वसुंधरा राजे को बधाई दी।

वसुंधरा ग्वालियर के शासक जीवाजी राव सिंधिया और विजया राजे सिंधिया की तीसरी संतान हैं। ये तीन बहनें (ऊषा राजे, वसुंधरा और यशोधरा) थीं जबकि इनके इकलौते भाई का नाम माधवराव सिंधिया था। साल 1985 में हुए राजस्थान विधानसभा चुनाव के दौरान वसुंधरा राजे धौलपुर सीट से मैदान में उतरीं और जीत दर्ज कीं। इनकी बेहतर नेतृत्व क्षमता के कारण साल 1987 में इन्हें राजस्थान भाजपा का उपाध्यक्ष नियुक्त कर दिया गया। साल 1989 में हुए 9वें लोकसभा चुनाव के दौरान भाजपा ने इन्हें राजस्थान के झालावाड़ से टिकट दिया। पार्टी की उम्मीद पर खरा उतरते हुए इन्होंने चुनाव में जीत दर्ज की। इसके बाद 1991 में हुए 10वें लोकसभा चुनाव और 1996 में हुए 11वें लोकसभा चुनाव में भी इन्होंने झालावाड़ से जीत दर्ज की। 

Posted By: Preeti jha

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप