संवाद सूत्र, जोधपुर। राजस्थान में बाड़मेर के समदड़ी थाना क्षेत्र में तीन दिन पहले हुए कार रेसिंग से जुड़े सड़क हादसे के मामले में समदड़ी थाना क्षेत्र के थानाधिकारी भुट्टा राम को भी लाइन हाजिर कर दिया है। इस संबंध में एएसपी खींव सिंह भाटी ने आदेश जारी किए हैं। इससे पहले सरकार ने गंभीरता दिखाते हुए बाड़मेर के एसपी शिवराज मीणा और कलेक्टर हिमांशु गुप्ता को एपीओ कर दिया था। मामले की जांच के लिए एडीजे रवि प्रकाश मेहरड़ा भी समदड़ी पहुचे।

बीते शनिवार को बाड़मेर के समदड़ी थाना क्षेत्र में अर्जुन अवॉर्डी गौरव गिल की स्पो‌र्ट्स कार से तीन लोगों के कुचलकर मौत हो जाने के बाद गामीणों और सरगरा समाज के लोगों द्वारा अपनी विभिन्न मांगों को लेकर शव नहीं उठाया गया था। साथ ही घटना के 24 घंटे के बाद भी मामला दर्ज नहीं हुआ था, जिसे लेकर सरकार के हस्तक्षेप के बाद ग्रामीणों और प्रशासन में सहमति बन पाई थी और रविवार देर रात मृतकों का अंतिम संस्कार किया गया था। इसके बाद एडीजे रवि प्रकाश मेहरड़ा भी समदड़ी पहुंचे और उन्होंने ग्रामीणों से पूरे घटनाक्रम की जानकारी ली।

इधर, मामले में पुलिस की विफलता को देखते हुए थाना अधिकारी भुट्टाराम को भी लाइन हाजिर किया गया है। उनकी जगह कैलाश दान को समदड़ी थाना प्रभारी बनाया गया है। कार रैली को लेकर स्वीकृति, अनुमति और पूरे घटनाक्रम के मद्देनजर सरकार द्वारा संभागीय आयुक्त को इस मामले की विस्तृत जांच गृह विभाग को सात दिनों के भीतर भेजने के भी निर्देश दिए गए हैं।

राजस्थान की अन्य खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

Posted By: Sachin Mishra

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप