जयपुर, जेएनएन। राजस्थान में सवाई माधोपुर जिले की गंगापुर सिटी में सोमवार को दिनभर शांति रही और बाजार खुले, हालांकि तनाव की स्थिति बनी रही। रविवार को यहां जुलूस पर पथराव के बाद पैदा हुए तनाव को देखते हुए धारा 144 लगा दी गई थी। भाजपा ने इस मामले को प्रशासन की विफलता बताते हुए तीन नेताओं की एक समिति गठित की है। यह समिति यहां का दौरा हालात की जानकारी पार्टी को देगी। गंगापुरसिटी में जिला प्रशासन और पुलिस के वरिष्ठ अधिकारी दिनभर यहां जमे रहे और शांति समिति के साथ बैठक भी की। पुलिस ने इस मामले में शांति भंग के आरोप में करीब 40 लोगों को हिरासत में भी लिया है।

नेता प्रतिपक्ष और पूर्व गृह मंत्री गुलाबचंद कटारिया ने इस घटना में पुलिस प्रशासन को पूरी तरह असफल करार दिया है। उन्होंने कहा कि धार्मिक स्थल से पथराव होता रहा और नीचे पुलिस पिटती रही। इससे ज्यादा दुर्भाग्यपूर्ण स्थिति कुछ हो नहीं सकती। उन्होंने कहा कि प्रदेश में कांग्रेस सरकार के राज में राजस्थान में अपराधियों को लगने लगा है कि अब उनका राज आ गया है, इसलिए इस प्रकार की घटनाएं तेजी से बढ़ रही हैं।

कटारिया ने कहा कि इस प्रकार की शोभायात्रा और कार्यक्रमों को लेकर पुलिस प्रशासन को पहले ही सतर्क रहना चाहिए था। इस मामले में भाजपा ने अपने तीन नेताओं की एक समिति भी गठित की है। प्रदेश प्रवक्ता सतीश पूनिया ने बताया कि इस घटना की जांच के लिए विधायक मदन दिलावर, अशोक लाहोटी और पूर्व संसदीय सचिव जितेंद्र गोठवाल की समिति गठित की गई है।

राजस्थान की अन्य खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करेें

Posted By: Sachin Mishra

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप