जयपुर, जागरण न्यूज नेटवर्क। उदयपुर स्थित नारायण सेवा संस्थान ने कोरोना वायरस महामारी से निपटने के लिए सिटी रेलवे स्टेशन को यात्रियों, प्रवासी कामगारों और कर्मचारियों की सुरक्षा के लिए काफी मात्रा में फेस मास्क और हैंड सैनिटाइजर स्टेशन अधीक्षक को सौंपे। संस्थान ने 700 फेस मास्क और 5 लीटर हैंड सेनेटाइजर कर्मचारियों की सुरक्षा के मद्देनजर भेंट किए।

कोरोना वायरस को मात देने के लिए दिव्यांगों द्वारा बनाए गए हजारों मास्क को जरूरतमंदों लोगों को बांटा जा रहा है। इसके अलावा गरीब और असहाय लोगों को भोजन के साथ-साथ मास्क, सैनिटाइजर और परिवारों को राशन सामग्री देने का काम भी संस्थान से जुड़े लोग कर रहे हैं। बता दें कि उदयपुर जिले में 600 से ज्यादा मामले कोरोना वायरस से जुड़े सामने आ चुके हैं। ऐसे में आवश्यक कार्य में लगे कर्माचारियों की सुरक्षा के लिए मास्क और हैंड सैनिटाइजर बांटे गए हैं।

इस बात को लेकर संस्थान के अध्यक्ष प्रशांत अग्रवाल ने बताया, "देश में कोरोना वायरस के संक्रमित मामले बढ़ते देखते हुए यात्रियों और कर्मचारियों की सुरक्षा दृष्टि में संस्थान ने 700 फेस मास्क और 5 लीटर हैंड सैनिटाइजर स्टेशन अधीक्षक को सौंपा है। साथ में, संस्थान की कोरोना रिलीफ सेवा विंग जरुरतमंदों को निशुल्क भोजन, मास्क और राशन किट मुहैया कराने में जुटी हुई है।" नारायण सेवा संस्थान ने दिव्यांगों से अब तक 48 हजार से ज्यादा मास्क बनवाए हैं, जिन्हें जरूरतमंदों में बांटा है।

राजस्थान की बात करें तो यहां करीब 9 हजार लोगों को कोरोना वायरस टेस्ट में पॉजिटिव पाया गया है, जबकि उदयपुर जिले में भी कई केस कोरोना वायरस के सामने आ चुके हैं। यहां तक कि हाल ही में जब ग्रीन, ऑरेंज, रेड और कंटेनमेंट जोन में जिलों को बांटा गया था तब उदयपुर ऑरेंज जोन में था। वहीं, उदयपुर सिटी को 100 से ज्यादा केस सामने आने के बाद कंटेनमेंट जोन में डाल दिया गया था।

Posted By: Vikash Gaur

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस