उदयपुर, जेएनएन। राजस्थान में उदयपुर के डबोक थाना क्षेत्र में गुरुवार सुबह मादक पदार्थ तस्करी के आरोपित एक युवक की हत्या कर दी गई। मामले में उसी के एक साथी को गिरफ्तार किया गया है, जबकि एक अन्य साथी की तलाश जारी है।

मृतक की पहचान देवरी चित्तौड़गढ़ निवासी कारूलाल पुत्र मांगीलाल सेन के रूप में हुई है। पुलिस के अनुसार, मादक पदार्थ तस्करी के तीन आरोपित साथ थे। आशंका है कि दो ने मिल कर तीसरे साथी का गला घोंट कर हत्या कर दी। पुलिस ने इनमें से एक को पकड़ लिया है और दूसरा फरार बताया जा रहा है। इस बीच, परिजनों ने पुलिस पर मामला दर्ज करने में टालमटोल करने का आरोप भी लगाया है। मृतक के खिलाफ चित्तौड़गढ़ के कोतवाली थाने में एनडीपीएस का मुकदमा पूर्व में दर्ज है।

परिजनों की मानें तो जब वे पुलिस की सूचना पर डबोक थाने पहुंचे तो थाने में मौजूद पुलिसकर्मियों ने शव को चित्तौड़ ले जाने और उनके संबंधित सदर थाने में मामला दर्ज कराने का दबाव बनाया। जबकि, परिजन बार-बार यह कहते रहे कि यह कैसे संभव है, जब शव डबोक थाना क्षेत्र में मिला है तो मामला यहीं दर्ज होगा। सदर थाने वाले फिर उन्हें वहां से लौटा कर डबोक में मामला दर्ज कराने को कहेंगे। सदर थाना क्षेत्र के देवरी निवासी भगवतीलाल ने बताया कि जब दबाव काफी बढ़ा तो उन्होंने चित्तौड़ के मीडियाकर्मियों को इसकी सूचना दी। मीडियाकर्मियों ने जब थाने पर मामले की जानकारी लेनी चाही, तब शव को पोस्टमार्टम करा कर हत्या का मामला दर्ज करने की कार्यवाही में जुटी हुई थी। बताया जा रहा है कि मृतक के पुत्र की बीती नौ जुलाई को शादी थी, जिसमें भी वह नहीं पहुंचा था।

इधर, डबोक पुलिस सूत्रों से मिली आरंभिक जानकारी के अनुसार दो ने मिल कर तीसरे साथी की गला घोंट कर हत्या कर दी। शव को कार में रखा हुआ था। कार दरोली के पास एक ढाबे पर रुकने के दौरान ढाबा मालिक को कार में शव होने का पता चल गया। इस पर उसने पुलिस को सूचना दी। पुलिस ने पहुंच कर दोनों को पकड़ना चाहा, तब एक आरोपित मौके से फरार हो गया।

राजस्थान की अन्य खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

Posted By: Sachin Mishra

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप