अजमेर, (जेएनएन)। राजस्थान के राज्यपाल कल्याण सिंह की ओर से ख्वाजा मोइनुद्दीन हसन चिश्ती की दरगाह के 807 वें उर्स के मौके पर शनिवार को चादर पेश की जाएगी। शुक्रवार को राजभवन में राज्यपाल कल्याण सिंह ने सचिव देवाशीष व स्क्वार्डन लीडर डी रवि की मौजूदगी में दरगाह पर चढ़ाई जाने वाली चादर सहायक निदेशक जनसम्पर्क डॉ. लोकेश चन्द्र शर्मा को सौंपी। राज्यपाल की ओर से शनिवार को दरगाह में सुबह नौ बजे चादर पेश की जाएगी।

केंद्रीय गृहमंत्री राजनाथ सिंह की ओर से सूफी संत ख्वाजा साहब के 807वें उर्स के मौके पर चादर पेश की गई। राजनाथ सिंह ने गुरुवार को दिल्ली स्थित निवास पर चादर व संदेश दरगाह कमेटी के सदस्य मुनव्वर खान को सौंपी थी। शुक्रवार दोपहर 11 बजे खान के साथ निर्मल जैन, शहजाद खान, इमरान चौधरी आदि चादर लेकर पहुंचे। यहां दरगाह के खादिम मुनव्वर चिश्ती ने सभी को जियारत कराई और दरगाह का तबर्रुख भेंट किया। राजनाथ सिंह की ओर से भेजा गया संदेश मुनव्वर खान ने बुलंद दरवाजे से पढ़कर सुनाया।

सिंह ने अपने संदेश में कहा कि ख्वाजा साहब ने दुनियां को आपसी भेदभाव भुलाकर सौहार्दपूर्ण जीवन जीने का संदेश दिया है। इस उर्स में सभी धर्म एवं समप्रदाय के लोग श्रद्धा भाव से शामिल होते है। उन्होंने उर्स में आए जायरीन और देशवासियों को अपनी शुभकामनाएं दी। सूफी संत ख्वाजा साहब की दरगाह में आने वाले जायरीन की हाजरी कबूल होने के साथ-साथ पूरे देश में एकता का संदेश देती है। सूफी संतों की शिक्षाएं हमें आपस में जोड़कर रख रही है।

उर्स का चांद दिखने पर बड़े पीर की पहाड़ी से तोप दागी गई और दरगाह परिसर से शादियाने बजाकर एलान किया गया। इस मौके पर लोगों ने एक दूसरे को मुबारकबाद दी। रात के समय दरगाह दीवान की अध्यक्षता में  महफिल खाने में सूफियाना कव्वाली का आयोजन किया,जिसमें देश के कई राज्यों से आई कव्वाल पार्टियों ने हिंदी, फारसी और बृज भाषा में कलाम पेश की। चांद दिखने के बाद देर रात को दरगाह दीवान और खादिमों ने ख्‍वाजा गरीब नवाज की मजार पर पहले गुस्ल की रस्म अदा की। इस रस्म को निभाने के लिए जन्नती दरवाजे होकर आस्ताने में पहुंचे। उर्स के मौके पर ये दरवाजा छह दिन के लिए खोला जाता है। चांद दिखाई देने से पूर्व शुक्रवार को हजारों जायरीन ने जुमे की नमाज अदा की। दरगाह परिसर जहां नमाजियों से खचाखच भरा रहा वहीं सड़कों पर भी नमाज अदा की गई। इसके लिए प्रशासन की ओर से विशेष इंतजाम किए गए।

मौलाना अब्दुल कलाम आज़ाद कल्याण संस्थान के अध्यक्ष सैयद मंसूर अली ने जानकारी देते हुए कि गुजरात के बलसाड़ जिले के कपराडाव विधानसभा के विधायक जीतू भाई चौधरी ने शुक्रवार को दरगाह ख्‍वाजा साहब में हाजरी दी। उन्होंने मखमल और फूलों की चादर पेश कर मुल्क में अमन चैन की दुआ मांगी और आने वाले चुनाव में कांग्रेस पार्टी की जीत की दुआ की गई। इसके साथ ही इस बार अच्छा मानसून रहे इसकी भी दुआ की गई। उनको दरगाह शरीफ के खादिम जनाब सखी सरवर साहब ने जियारत करवाई और सनम चिश्ती जी ने तबर्रुख दिया और दस्तारबंदी की। उनके साथ गुजरात से आए अनूप सिंह राजपुरोहित, अशोक राजपुरोहित और जिग्नेश मौजूद रहे। संस्थान के उपाध्यक्ष कमल गंगवाल ने बताया कि इससे पूर्व नये बाजार में संस्थान की तरफ से उनका भव्य स्वागत किया गया, जिसमें संस्थान के सैयद मंसूर अली, हसन मोह मद खान, राजकुमार गर्ग आदि सदस्य मौजूद रहे।

Posted By: Preeti jha

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप