जयपुर, जेएनएन। राजस्थान के चूरू जिले के रतनगढ़ इलाके में एक जेठ ने अपने तीन अन्य साथियों के साथ मिल कर 28 वर्षीय विवाहिता से सामूहिक दुष्कर्म किया। पीड़िता का आरोप है कि जेठ ने उसे घर छोड़ने के बहाने कार में बैठाया और बेहोशी की दवा देकर उसके साथ दुष्कर्म किया। पुलिस मामले की जांच कर रही है।

पीड़िता की ओर से पुलिस में दर्ज की गई शिकायत के मुताबिक, वह बस से अपने पीहर से ससुराल जा रही थी। सफर के दौरान तबीयत खराब होने पर वह रतनगढ़ में उतर गई और सरकारी अस्पताल जाकर दवा ली। वापसी में बस स्टैंड पर उसका जेठ मिला तो उसके कहने पर वह गाड़ी में जेठ के साथ रवाना हो गई। गाड़ी में उसे कुछ अजीब लगा तो जेठ ने उसे कोई दवाई दे दी। इसी दौरान रास्ते में बीदासर निवासी नानू, जिनरासर निवासी मुकेश कुमार व संजू भी कार में बैठ गए।

थोड़ी देर बाद पीड़िता पर बेहोशी छाने लगी तो चारों उसे सुनसान स्थान पर एक मकान में ले गए और उसके साथ बारी-बारी से दुष्कर्म किया। जब विवाहिता को होश आया, तो खुद को सूने मकान में पाया। बाद में आरोपितों ने उसे फिर कार में बैठा लिया और रतनगढ़ के रेलवे स्टेशन पर छोड़ कर चले गए। पीड़िता की शिकायत पर पुलिस प्रकरण दर्ज कर मामले की जांच कर रही है।

जेठ द्वारा महिला से दुष्कर्म करने पर एक बार महिलाओं की सुरक्षा पर फिर से सवाल उठने लगे हैं। यानी महिलाओं को गैरों से तो खौफ है ही, वह अपनों से भी सुरक्षित नहीं हैं।

पुलिस ने कई जगह दबिश दी, मगर अभी तक आरोपितों की गिरफ्तारी नहीं हो पाई है। वहीं, पुलिस ने पीड़िता को मेडिकल जांच के लिए भेज दिया है। इस मामले में पुलिस विभिन्न पहलुओं पर जांच कर रही है। मेडिकल के बाद इस मामल में पीड़िता के बयान दर्ज होंगे।  

राजस्थान की अन्य खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें 

Posted By: Sachin Mishra

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस