उदयपुर, संवाद सूत्र। राजस्थान में डूंगरपुर के पूर्व राजघराने की महारानी और राज्य सभा सांसद हर्षवर्धन सिंह की मां देव कुमारी का 90 वर्ष की आयु में शनिवार को निधन हो गया। डूंगरपुर के उदयविलास पैलेस में देव कुमार ने सुबह पौने सात बजे अंतिम सांसें लीं। देव कुमारी के निधन की खबर सुनकर वागड़, मेवाड़ और बिकाणा क्षेत्र में शोक की लहर छा गई है। गौरतलब है कि देव कुमारी डूंगरपुर के महारावल महिपाल सिंह की धर्म पत्नी तथा बीकानेर के महाराजा गंगा सिंह की पौत्री थीं। देव कुमारी का जन्म एक जनवरी, 1932 को बीकानेर राजघराने के महाराज कुंवर विजय सिंह के घर हुआ था। वह भाजपा नेता व राज्यसभा सांसद हर्षवर्धन सिंह की माता थी। डूंगरपुर के उदय विलास पैलेस में अंतिम दर्शनों के लिए उनके पार्थिव देह को डोल में विराजित कर आमजन को अंतिम दर्शनों के लिए रखा गया। राजपुरोहित दिनेश पुरोहित ने पूजन कर्म किए जाने तथा घर पर अंतिम संस्कार की आवश्यक क्रिया संपन्न करवाने के बाद उनका पार्थिव देह की यात्रा उदय बिलास पैलेस से राजघराने के मोक्षधाम सुरपुर के लिए रवाना हुई। सुरपुर मोक्षधाम पहुंचने के बाद उनकी पार्थिव देह पंचतत्व में विलीन की गई।

इन्होंने जताया शोक

प्रदेश ही नहीं, बल्कि देश भर से भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) और अन्य पार्टियों के नेताओं ने देव कुमारी के निधन पर राज्यसभा सांसद हर्षवर्धन सिंह को फोन कर संवेदना जताई है। इस मौके पर प्रदेश के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत, पूर्व उपमुख्यमंत्री व कांग्रेस नेता सचिन पायलट, विधानसभा अध्यक्ष डा. सीपी जोशी, भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष सतीश पूनिया, राज्य विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष गुलाबचंद कटारिया, राजसमंद सांसद दीया कुमारी, चित्तौड़गढ़ सांसद सीपी जोशी, उदयुपर सांसद अर्जुन मीणा, पूर्व कैबिनेट मंत्री डा. गिरिजा व्यास के अलावा संभाग व जिला स्तर के नेताओं ने शोक संवेदना प्रगट की है। उदयपुर के पूर्व राजघराने के सदस्य अरविंद सिंह मेवाड़ ने भी शोक संवेदना प्रगट की है।  

Edited By: Sachin Kumar Mishra