जयपुर, नरेन्द्र शर्मा। चार बार सांसद रहे कर्नल सोनाराम एक बार फिर कांग्रेस में शामिल होने की तैयारी कर रहे है। सोनाराम तीन बार कांग्रेस के टिकट पर लोकसभा चुनाव जीतकर सांसद रह चुके है,लेकिन फिर वे 2014 में भाजपा में शामिल होकर लोकसभा में पहुंचे। तत्कालीन मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे के निकटस्थ सोनाराम को टिकट देने के चक्कर में पार्टी ने भाजपा के संस्थापक जसवंत सिंह का ही टिकट काट दिया था।

हालांकि जसवंत सिंह ने निर्दलीय चुनाव लड़ा और हार गए थे। सेना में रहते हुए 1971 के युद्ध में पाक कि खिलाफ लड़ाई लड़ चुके कर्नल सोनाराम को भाजपा ने इस बार टिकट नहीं देकर कैलाश चौधरी को मैदान में उतारा है।

टिकट नहीं मिलने से नाराज कर्नल सोनाराम ने कांग्रेस में शामिल होने की घोषणा कर दी है। कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी,मुख्यमंत्री अशोक गहलोत और उप मुख्यमंत्री एवं प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष सचिन पायलट कर्नल सोनाराम को कांग्रेस में शामिल किए जाने को लेकर तैयार है। लेकिन जोधपुर संभाग के कुछ कांग्रेसियों के विरोध के कारण अगले दो दिन तक घोषणा टाल दी गई है।

कर्नल सोनाराम ने दैनिक जागरण से बातचीत में दावा किया कि वे कांग्रेस में शामिल हो रहे है,उनकी बड़े नेताओं से बातचीत हो गई है। एक तरफ जहां सोनाराम सेना में कर्नल थे,वहीं मानवेंद्र सिंह सेना में मेजर रह चुके है ।

अब तक जसवंत सिंह से अदावत,लेकिन अब मानवेंद्र के लिए मांगेंगे वोट

2014 में जसवंत सिंह टिकट काटकर कर्नल सोनाराम को टिकट दिए जाने के बाद से ही दोनों के बीच काफी तनाव था। कर्नल सोनाराम के बढ़ते दखल के चलते ही मानवेंद्र सिंह करीब तीन माह पूर्व संपन्न हुए विधानसभा चुनाव में भाजपा छोड़कर कांग्रेस में शामिल हुए। मानवेंद्र सिंह ने झालारापाटन से तत्कालीन सीएम वसुंधरा राजे के खिलाफ चुनाव लड़ा था। लेकिन अब बदली परिस्थितियों में कर्नल सोनाराम कांग्रेस में शामिल हो रहे है। पहले तो यह तय किया गया था कि गुरूवार को जालौर में हुई कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी की सभा में पार्टी में शामिल होंगे,लेकिन जोधपुर संभाग के कुछ नेताओं के विरोध के चलते इसे फिलहाल दो दिन के लिए टाल दिया गया।

हालांकि उनका कांग्रेस में शामिल होना तय है। जाट वोट बैंक पर मजबूत पकड़ के चलते कांग्रेस नेतृत्व भी कर्नल सोनाराम को पार्टी में शामिल करने के लिए तैयार हो गया। जानकारी के अनुसार कर्नल सोनाराम ने बाड़मेर-जैसलमेर सीट पर कांग्रेस प्रत्याशी मानवेंद्र सिंह और जोधपुर में सीएम अशोक गहलोत के बेटे वैभव गहलोत के लिए वोट मांगने की हां की है। वे दोनों प्रत्याशियों को जाट वोट दिलवाने का प्रयास करेंगे। 

Posted By: Preeti jha

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप