जयपुर, जागरण संवाददाता। राजस्थान में आज 154 नए COVID19 मामले सामने आए हैं और 4 मौतें हुई हैं, राज्य स्वास्थ्य विभाग के अनुसार राज्य में पॉजिटिव मामलों की कुल संख्या अब 14691 हो गई है और कुल 341मौतें हुई हैं।

राजस्थान में कोरोना के मामलों का बढ़ना लगातार जारी है। आज सुबह रविवार को कोरोना के 154 मामले सामने आए। अलवर 12, भीलवाड़ा 5, चूरू 1, धौलपुर 59, डूंगरपुर 5, जयपुर 31, झालावाड़ 2, झुंझुनू 22, नागौर 2, राजसमंद 3, सीकर 9, उदयपुर 2, अन्य राज्य 1,  है। राजस्थान में अब तक 14691 कोरोना पाॅजिटिव सामने आई है।  आज 4 की मौत हुई है, राज्य में कुल 337 मौतें हो चुकी है।  

शनिवार को यहां कोरोना के 381 मामले सामने आए। वहीं चार लोगों की मौत हो गई। अब तक राजस्थान में 14 हजार 537 मामले सामने आ चुके है। इनमें से 2926 एक्टिव केस है। वहीं 337 मौतें हो चुकी है। राजस्थान में अब तक सामने आई पाॅजिटिव मामलों में 4180 प्रवासियों के है। शनिवार को सबसे ज्यादा 71 पाॅजिटिव मामले भरतपुर में सामने आए। यहां अब तक 1316 पाॅजिटिव मामले सामने आए है जो जयपुर और जोधपुर के बाद सर्वाधिक है।

राजस्थान में रविवार को कोरोना के 154 मामले सामने आए। अलवर 12, भीलवाड़ा 5, चूरू 1, धौलपुर 59, डूंगरपुर 5, जयपुर 31, झालावाड़ 2, झुंझुनू 22, नागौर 2, राजसमंद 3, सीकर 9, उदयपुर 2, अन्य राज्य 1,  है। राजस्थान में अब तक 14691 कोरोना पाॅजिटिव सामने आई है।  आज 4 की मौत हुई है, राज्य में कुल 337 मौतें हो चुकी है। 

वहीं मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के निर्देश के बाद आज स्वास्थ्य विभाग ने निजी अस्पतालों और लैब्स में कोरोना जांच 2200 रुपये मे करने के आदेश जारी कर दिए। इस बारे में निर्णय शुक्रवार देर रात किया गया था।

करीब साढ़े चार हजार करोड़ रूपए के घाटे से जूझ रहीं राजस्थान रोड़वेज पिछले चार साल से अपने कर्मचारियों को सेवानिवृति पर पेंशन, ग्रेच्युटी व ओवर टाइम का पैसा नहीं दे पा रही है। सेवानिवृत कर्मचारियों का रोड़वेज पर करीब 600 करोड़ बकाया है। यही नहीं ड्यृटी पर रहते हुए जिन कर्मचारियों की मौत हुई उनके परिजनों को मृतक आश्रित कोटे में नौकरी भी नहीं दी जा रही है। इस कारण कई परिवारों के सामने भूखे मरने की नौबत आ गई है।

 

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस